दैनिक भास्कर हिंदी: Me Too : नाना पाटेकर दे चुके सफाई, तनुश्री अब तक नहीं पहुंची महिला अयोग

November 17th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री तनुश्री दत्ता बुलाए जाने के एक महीने बाद भी राज्य महिला आयोग नहीं पहुंचीं हैं। वहीं नाना ने तय समय के भीतर महिला आयोग को अपना जवाब भेजते हुए खुद को बेकसूर बताया है। मामले में तनुश्री के वकील का कहना है कि वे जल्द ही तनुश्री की ओर से आयोग के सामने अपना पक्ष रखेंगे।

तनुश्री के वकील नितिन सातपुते ने कहा कि राज्य महिला आयोग की नोटिस मिलने के बाद आयोग को इस बात की जानकारी दे दी गई थी कि मामले में मैं अभिनेत्री की ओर से उनका पक्ष रखूंगा। लेकिन महिला आयोग ओर से मुलाकात का कोई वक्त निर्धारित नहीं किया गया। सातपुते ने कहा कि वे फिर से आयोग से संपर्क कर मुलाकात का समय मांगेंगे। सातपुते ने कहा कि आयोग हमसे सारी जानकारियां मांग रहा है जबकि हमने शिकायत एफआईआर की कॉपी समेत पूरे दस्तावेज सौंपे हैं। उन दस्तावेजों में मामले के जुड़ी सारी जानकारी है। फिर भी आयोग को जरूरत होगी तो मैं उसके समक्ष जाकर पूरी बात बताने को तैयार हूं।

बता दें कि अभिनेत्री की शिकायत के बाद महिला आयोग ने पाटेकर समेत सभी आरोपियों को नौ अक्टूबर को नोटिस भेजकर दस दिन में जवाब देने को कहा था। साथ ही तनुश्री से भी दस दिन के भीतर आयोग के दफ्तर में आकर मामले की विस्तृत जानकारी देने को कहा था। 19 अक्टूबर को मामले में पाटेकर ने अपने वकील के जरिए महिला आयोग को सफाई दी और खुद को बेकसूर बताया। नाना ने कहा कि वे इस मामले में न्यायालय में लड़ाई के लिए तैयार हैं।  
क्या है मामला 

अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने आरोप लगाया था कि फिल्म हॉर्न ओके प्लीज के एक गाने की शूटिंग के दौरान अभिनेता नाना पाटेकर, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य, निर्माता समीर सिद्दीकी और निर्देशक राकेश सारंग ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया था। तनुश्री के मुताबिक पाटेकर ने उनका यौन उत्पीड़न करने की कोशिश की और दूसरे लोगों ने उनका साथ दिया। पुलिस के साथ साथ तनुश्री ने राज्य महिला आयोग में भी शिकायत की थी। जिसके बाद चारों आरोपियों के अलावा सिंटा और पुलिस से भी मामले में सफाई मांगी गई थी।