दैनिक भास्कर हिंदी: देश में सबसे ऊंची उड़ान नागपुर मेट्रो की, रोड से 25 मीटर उंचाई से दौड़ेगी मेट्रो

December 13th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर में मेट्रो का निर्माण नित नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है।   अधिकारियों की माने तो देश में नागपुर की मेट्रो सबसे अधिक ऊंचाई से दौड़ने वाली है।  यानी अब तक कोई भी मेट्रो 25 मीटर की उंचाई से नहीं दौड़ी है। लेकिन नागपुर में वर्धा रोड पर बन रहे डबल डेकर से ऐसा होने वाला है। इस वक्त मेट्रो में बैठने वाले यात्री करीब 27 मीटर उंचाई से नागपुर शहर के दो बड़े क्षेत्र को निहार सकेंगे।।

मार्च तक इस मार्ग पर दौड़ेगी मेट्रो

उल्लेखनीय है कि नागपुर में करीब ढाई साल से मेट्रो का काम चल रहा है। दरमियान शहर के चारों दिशा में मेट्रो दौड़ने वाली है। लेकिन रीच-1 व रीच-3 आगामी मार्च तक शुरू करने की जद्दोजहद शुरू है। इसी के तहत बुधवार को रीच-1 व में आखिर सेगमेंट स्थापित करने के दौरान अधिकारियों ने बताया कि वर्धा रोड से दौड़नेवाली मेट्रो करीब 10 से ज्यादा किमी एलिवेटेड मार्ग से चलनेवाली है। लेकिन इसमें डबल डेकर रहने से नेशनल हाईवे के ऊपर करीब साढ़े 3 किमी तक मेट्रो को 25 मीटर की  ऊंचाई से दौड़ना है। जिसका रूट तैयार हो गया है। नागपुर शहर में बर्डी से पारडी, हिगणा, ऑटोमोटिव चौक तीनों तरफ मेट्रो का मार्ग बन रहा है। वहीं तीनों दिशा में एलिवेटेड मार्ग का निर्माण है। लेकिन कहीं भी मेट्रो 19 मीटर से ऊंचाई से नहीं दौड़नेवाली है। पूरे भारत देश की बात भी करें तो अभी तक किसी भी क्षेत्र की मेट्रो 25 मीटर की ऊंचाई से नहीं दौड़ी है। लेकिन नागपुर में यह कीर्तिमान स्थापित होने जा रहा है। जहां नागपुर मेट्रो 25 मीटर की ऊंचाई से दौड़ेगी। वहीं इसमें बैठे यात्री 27 मीटर उंचाई से शहर को निहार सकेंगे।

आखरी पिल्लर का निर्माण शुरू  

रीच-3 बर्डी से हिगणा रोड के बीच बननेवाला है। ऐसे में यहां भी मार्च तक कुछ फासले पर मेट्रो चलाने का लक्ष्य सामने रखा गया है। बुधवार को जिन पिल्लरों पर मेट्रो की राह बनती है। ऐसे आखरी पिल्लर का निर्माण कार्य महा निदेशक बृजेश दीक्षित के सामने शुरू किया गया। वहीं वर्धा रोड पर मेट्रो की राह को पूरी तरह तैयार किया गया। आखरी एक सेगमेंट भी महानिदेशक व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के सामने जोड़ा गया।