comScore

पढ़ाई के लिए डांट लगाने पर मजदूर मां को बेटे ने मौत के घाट उतार दिया

August 20th, 2018 15:15 IST
पढ़ाई के लिए डांट लगाने पर मजदूर मां को बेटे ने मौत के घाट उतार दिया

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। पढ़ाई के लिए बेटे को डांटना एक मां के लिए मौत की वजह बन गया। पति के छोडऩे के बाद मजदूरी कर बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए संघर्ष कर रही महिला का बेटा ही उसका हत्यारा बन गया। हिवरखेड़ी चौकी के ग्राम पिंडरईसराफ की 35 वर्षीय कुमारी पति जागेश उईके का 15 वर्षीय बेटा और 6 वर्षीय बेटी है। सालों पहले पति ने कुमारीबाई को छोड़ दिया। इसके बाद से वह मजदूरी कर बेटा-बेटी को पढ़ा रही थी। गांव के सरकारी स्कूल में नौवीं में पढऩे वाला उसका 15 वर्षीय बेटा पढ़ाई नहीं करना चाहता था।

इस वजह से वह घर छोड़कर अपने रिश्तेदारों के घर सिंगोड़ी चला गया था। काफी तलाश के बाद कुमारीबाई ने उसे सिंगोड़ी से गुरुवार को घर लाया। शुक्रवार शाम वह बेटे को पढ़ाई न करने और घर छोड़कर भागने की बात पर डांट रही थी। इस बात से नाराज बेटे ने मां पर रॉड से हमलाकर दिया। रॉड से कुमारीबाई के गले समेत शरीर के अन्य अंगों में गहरी चोटें आई थी। जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। टीआई अर्चना जाट ने बताया कि नाबालिग के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

बेसहारा हुई छह वर्षीय बच्ची
जागेश उईके ने पत्नी कुमारीबाई और दो बच्चों को उनके हालात पर छोड़ दिया था। दोनों बच्चों का पालन पोषण कर रही कुमारीबाई की हत्या उसी के बेटे ने कर दी। मां की मौत और भाई पुलिस गिरफ्त में होने के बाद अब छह वर्षीय मासूम बेसहारा हो गई है। बच्ची को मृतक के रिश्तेदारों ने अपने पास रखा है।

युवक पर कुल्हाड़ी से हमला कर उतारा मौत के घाट
माहुलझिर थाना क्षेत्र के ग्राम कुंभादेव में मामूली से विवाद में एक युवक पर कुल्हाड़ी से हमलाकर उसकी हत्या का मामला सामने आया है। सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस ने खेत में छिपे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।टीआई मंगल सिंह धुर्वे ने बताया कि कपूरनाला निवासी 37 वर्षीय सालिकराम पिता काशीराम कुमरे गुरुवार को कुंभादेव में रहने वाले अपने परिचित के घर गया था। यहां से लौटते समय गांव में अपने घर के सामने चिल्लाचोट कर रहे विशनलाल धुर्वे से सालिकराम ने क्यों चिल्ला रहे है, यह पूछ लिया।

इस बात से नाराज विशनलाल धुर्वे ने घर से कुल्हाड़ी निकालकर सालिकराम पर हमला कर दिया। इस हमले में सालिकराम के सिर और हाथ पर गंभीर चोटें आई थी। जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी विशनलाल के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम में टीआई मंगल सिंह धुर्वे, एएसआई रामसिंग रघुवंशी, रामचरण परते, आरक्षक मनोहर, महेन्द्र और डालचंद शामिल है।

कमेंट करें
kzjEw