दैनिक भास्कर हिंदी: गांजा चैकिंग में बैग से मिली झाड़पत्ती, RPF ने 36 सेकंड में पकड़ा मोबाइल चोर

October 23rd, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रेलवे स्टेशन पर टिकट निकाल रहे एक यात्री का मोबाइल चूराने वाले आरोपी को आरपीएफ ने मात्र 36 सैकंड के अंदर पकड़ लिया। स्टेशन परिसर में लगे CCTV कैमरों के माध्यम से ऐसा हो सका है। कैमरों का फुटेज देख रहे सिपाही को आरोपी चोरी करते दिखाई दिया। जिसके तुरंत बाद ही एक अन्य सिपाही ने जाकर आरोपी को धर दबोचा। जब से CCTV स्टेशन परिसर में लगे हैं, आरपीएफ लगातार कार्रवाई कर रही है। ऐसे में आरपीएफ के लिए CCTV किसी वरदान से कम नहीं है।

इससे पहले भी CCTV की मदद से रेलवे सुरक्षा दल ने एक मिनट के भीतर आरोपियों को पकड़ा है। आरोपी शाम 6.26 को संतरा मार्केट स्थित टिकट काउंटर परिसर में संदिग्ध तरीके से घूम रहा था। ऐसे में फुटेज देख रहे सिपाही उस पर लाइव नजर रखे थें। कुछ ही देर बाद आरोपी ने टिकट निकाल रहे एक यात्री के जेब में हाथ डालते हुए मोबाइल निकाल लिया। जिसकी यात्री को भनक भी नहीं लगी थी।

ऐसे में प्रधान आरक्षक एन.पी. वासनिक व अर्जुन सामंतराय, जाहिद खान ने संतरा मार्केट की ओर दौड़ लगाई। मात्र कुछ ही सेकंद में आरोपी तक आरपीएफ पहुंच गई। आरोपी को हिरासत में लेने के बाद उसने अपना नाम मोहम्मद मुद्सीर जुला अंसारी (36) निवासी नागपुर बताया। स्टेशन पर आने का कारण पूछने पर कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। ऐसे में थाने लाकर तलाशी लेने पर उसके पास चोरी का एक मोबाइल बरामद हुआ। आरोपी को अगली कार्रवाई के लिए जीआरपी को सौपा गया।

गांजा समझ बैग में निकली झाड़पत्ती
दूसरे मामले में स्टेशन पर सोमवार को एक अजीब मामला सामने आया। गांजे की तरह पैकिंग कर एक व्यक्ती बैग में भरकर पैकेट लेकर जा रहा था। संदेह के आधार पर व्यक्ति को पकड़ा गया था। कानूनी प्रक्रीयां के बाद पैकेट खोलने पर उसमें गांजा नहीं, बल्कि झाड़-पत्तियां दिखाई दी। हैरानी की बात यह है, कि जो व्यक्ति इस बैग को लेकर जा रहा था, वह खुद बैग में गांजा होने की बात आरपीएफ के अनुसार स्वीकार चुका था। बावजूद इसके बैग में झाड़-पत्तियां निकलने से पुलिस महकमें में कई कयास लगाये जा रहे हैं। हालांकि फिलहाल मामला कुछ साफ नहीं हो पाया है।

नागपुर रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ की ओर से लगातार शराब व गांजे की तस्करी को पकड़ी जा रही है। गत एक महा में ही आरपीएफ ने 2 गांजा तस्करी पकड़ी है। वही एक दर्जन से ज्यादा शराब की तस्करी पकड़ी है। सोमवार को इसी कार्रवाई को नियमित रखते हुए आरपीएफ के कुछ सिपाही गश्त कर रहे थें। सूत्रों के अनुसार ट्रेन नंबर 12721 हैद्राबाद-निजामु्द्दिन एक्सप्रेस प्लेटफार्म नंबर एक पर पहुंची। इस गाड़ी में आरपीएफ की टीम ने गश्त लगाना शुरू किया। इस बीच एक व्यक्ति बी-1 एसी कोच से उतरकर उसके हाथों में बैग दिखाई दिया। ऐसे में आरपीएफ के सिपाहियों ने बैग के बारे में पूछताछ करने पर खाकी रंग की प्लास्टिक से बांधे हुए पैकेट दिखाई दिये।

अब तक की हुई कार्रवाई में ठीक इसी तरह गांजे की पैकिंग होती है। ऐसे में आरपीएफ ने आरोपी से भी इस बारे में पूछताछ की उसने भी पैकेट में गांजा रहने की सहमति दी थी। ऐसे में ‌व्यक्ति को हिरासत में लेते हुए जीआरपी को सुबह 10 बजे कार्रवाई के लिए पत्र भी सौपा गया। हालांकि रेलवे पुलिस जांच के लिए शाम 6 बजे के बाद पहुंची। कानूनी प्रक्रीयां के बाद जब पैकेट खोला गया तो उसमें झा़ड़-पत्तियां पाई गई। हालांकि आरोपी समझ पकड़े गये व्यक्ती से इसके बारे में पूछने पर उसने इसमें गांजा खरीदने की बात कही थी। जिसे वह छिंदवाड़ा लेकर जाने की फिराग में था। फिलहाल आरोपी जीआरपी के पास है। आगे की जांच चल रही है।

खबरें और भी हैं...