दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी की वीडियो कांफ्रेंसिंग : नागपुर के जिलाधीश ने गिनाए काम

May 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागपुर समेत देश के 11 राज्यों के 60 जिलाधीशों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की।  जिलाधीश रवींद्र ठाकरे भी इसमें शामिल हुए। नागपुर जिले की रिपोर्ट प्रधानमंत्री कार्यालय को पेश की जाएगी। पीएम मोदी ने राज्य के जिलाधीशों से कोरोना को लेकर उठाए गए कदमों व किए जा रहे उपायों की समीक्षा की।  

प्रधानमंत्री ने कहा : कोरोना की दूसरी लहर में जिलाधीशों ने जिस मुस्तैदी से कोरोना का मुकाबला किया, उसके लिए प्रधानमंत्री ने उनकी सराहना की। तीसरी लहर में गांव ज्यादा प्रभावित न हों, इस दिशा में कदम उठाने को कहा। गांवों को कोरोनामुक्त करने पर जोर देने तथा स्थानीय हालात को देखकर कदम उठाने को कहा। साथ ही कहा कि तीसरी लहर का खतरा बच्चों पर ज्यादा हो सकता है, इसे देखते हुए बालरोग विशेषज्ञों की टीम की जाए। छोटे ऑक्सीजन मास्क तैयार रखें, कोरोनामुक्ति के लिए जनजागृति करने व गांवांे में कोरोना प्रोटोकॉल की कड़ाई से अमल करने पर जोर दिया। वैक्सीन का एक भी डोज बेकार न जाए इसका ख्याल रखने को कहा। 

जिलाधीश ने बताया : जिलाधीश रवींद्र ठाकरे ने डेढ़ साल में जिला प्रशासन की तरफ से उठाए गए कदमों की जानकारी दी। सड़क पर बेकार घूमनेवालों के एंटीजन टेस्ट, 24 घंटे में टेस्ट रिपोर्ट, क्वारंेटाइन अभियान, कोरोना में पिछड़े गांवों में अधिकारियों की टीमें भेजना, एंबुलेंस, मेडिकल व मेयो में बढ़ाई गई बेड की संख्या, ऑक्सीजन प्लांट, समन्वय कक्ष, तेजी से चलाई गई टीकाकरण मुहिम की भी जानकारी पेश की। इसकी रिपोर्ट पीएमआे को भेजी जाएगी। 

ये थे उपस्थित : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे,  स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, मुख्य सचिव सीताराम कुंटे, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रदीप व्यास, नागपुर से विभागीय आयुक्त डॉ.संजीव कुमार, मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी., जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी योगेश कुंभेजकर, स्वास्थ्य उपसंचालक  डॉ. संजय जायस्वाल, जिला शल्य चिकित्सक डी. पातुरकर, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डी. एस. सेलोकार उपस्थित थे।