दैनिक भास्कर हिंदी: मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस: पूरे प्रदेश आज से 30 अप्रैल तक ज्यादा सख्ती, श्मशानों में चार-चार घंटे की वेटिंग

April 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में आज से 30 अप्रैल तक सख्ती बढ़ा दी है। इसके मद्देनजर गृह विभाग ने गाइडलाइन भी जारी कर दी है। उधर, ग्वालियर में रेमडेसिविर बांटने के लिए रात 11 बजे तक कलेक्टोरेट में हंगामा होता रहा। वहीं MP हाईकोर्ट ने भी दमोह में कोविड प्रोटोकॉल के उल्लंघन पर राज्य सरकार और चुनाव आयोग से जवाब मांगा है।

संक्रमण दर 24.7% हुई
पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 12,727 नए मामले सामने आए। 79 मौतें भी हुईं। राहत की बात ये है, पिछले 24 घंटे में 8,937 लोग ठीक भी हुए हैं। हालांकि संक्रमण दर 24.7% पहुंच गई है, जो अब तक की सबसे ज्यादा है।

छोटे जिलों में भी हालात खराब
सबसे ज्यादा चिंता की बात यह है कि बड़े शहरों के साथ अब छोटे जिलों में भी हालात खराब होते जा रहे हैं। बेहतर इलाज की आस में लोग छोटे शहरों से इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर का रुख कर रहे हैं, लेकिन यहां निराशा ही हाथ लग रही है। मंगलवार को इंदौर में सतना से आए युवक ने अस्पताल के बाहर चार घंटे इंतजार के बाद एम्बुलेंस में ही दम तोड़ दिया। सागर में फ्रीजर खराब होने से 20 शव सड़ रहे हैं।

इधर, सरकार के दावों के बावजूद प्रदेशभर में रेमडेसिविर, ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड की किल्लत बनी हुई है। इसी को देखते हुए भोपाल में सागर ग्रुप की ओर से 500 बेड और उज्जैन में 300 बेड की अतिरिक्त व्यवस्था की जाएगी। इंदौर में भी राधास्वामी व्यास परिसर में 600 बेड की व्यवस्था की गई है।

श्मशानों में चार-चार घंटे की वेटिंग
सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक पिछले 24 घंटों में चार बड़े शहरों में ही महज 25 मौतें हुई हैं, लेकिन श्मशानों में जलती चिताएं हकीकत बयां कर रही हैं। सभी बड़े शहरों के श्मशानों में चार-चार घंटे की वेटिंग चल रही है।

खबरें और भी हैं...