दैनिक भास्कर हिंदी: उपचुनावों को प्रभावित कर रही है शिवराज सरकार : अरुण यादव

February 10th, 2018

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। दिग्विजय सिंह की नर्मदा यात्रा में शामिल होने के लिए नगर प्रवास पर आये मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने प्रदेश सरकार की नीतियों की जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में होने वाले मुंगावली और कोलारस उप चुनाव को प्रभावित करने में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री स्वयं लगातार उन क्षेत्रों का दौरा कर घोषणाएं कर रहे हैं, जिसकी शिकायत कांग्रेस द्वारा चुनाव आयोग से की गई है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में होने वाले दोनों उपचुनावों में कांग्रेस की स्थिति काफी अच्छी नजर आ रही है और हमारी पार्टी की वहां पर जीत सुनिश्चित है। मतदाताओं का रुख भांपकर प्रदेश सरकार व संगठन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। उन्होंने ईवीएम मशीन को लेकर कहा कि प्रदेश में चुनाव मतपत्र से होना चाहिए, क्योंकि ईवीएम में गड़बड़ी की पूरी संभावना रहती है।

उन्होंने कांग्रेस संगठन को बूथ स्तर पर पहुंचाने व आगामी दिनों में संगठन में फेरबदल किए जाने की संभावना भी जताई। इससे पूर्व दोपहर ढाई बजे उनका स्टेशन पर आगमन हुआ। उनके आगमन को लेकर उत्साहित कांग्रेसजनों ने उनकी अगवानी की। उनका स्वागत करने वालों में मदन तिवारी, राजेन्द्र यादव, सचिन यादव, राशिद सुहैल सिद्दकी, विनय सक्सेना, राजेश सोनकर, गजेन्द्र सोनकर, पंकज पांडे, अभिषेक यादव, सतीश तिवारी, गुड्डू चौबे, अतुल बाजपेई, रेखा जैन, रजनी निगम, श्वेता दुबे, राहुल अग्रवाल, गोविन्द यादव आदि उपस्थित थे।

12 साल नहीं ली जनता की सुध
यादव ने कहा कि प्रदेश में 12 वर्षों से राज कर रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने प्रदेश की जनता की सुध नहीं ली और चुनाव नजदीक आता देख फिर जनता को लुभावने वादों में फंसाने की कोशिश शुरू कर दी गई है। प्रदेश सरकार की भावांतर योजना पर उनका कहना था कि इस योजना से किसानों को नहीं, बल्कि व्यापारियों को लाभ पहुंचा है।

कटारे का बचाव किया
कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने पर उन्होंने कटारे का बचाव करते हुए कहा कि पूरा घटनाक्रम प्रायोजित है और सत्ता पक्ष के इशारे पर हेमंत कटारे को फंसाने की साजिश की गई है। उन्होंने इस मामले में निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की है।

बिजली में जमकर भ्रष्टाचार
उन्होंने शहर में पिछले 6 माह से बिजली बिलों की धांधली को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर सरकार को घेरते हुए कहा कि प्रदेश सरकार अपने बिजली घरों को बंद कर महंगे दाम पर बिजली खरीद जनता पर बोझ लाद रही है। वहीं स्टेपअप व फेडको जैसी कंपनियों से मिली भगत कर जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है।