सारड़ा ने लगाए आरोप: सांसद गवली भ्रष्टाचार में लिप्त, पवार व राज्य से माफी मांगे

September 9th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शिवसेना सांसद भावना गवली के विरोध में न्यायालयीन संघर्ष कर रहे हरीश सारडा ने कहा है कि गवली ने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार को भी गुमराह किया है। केंद्रीय जांच एजेंसियों के इस्तेमाल को लेकर पवार के बयान पर सारडा ने कहा कि गवली ने गुमराह करने के बाद ही पवार जांच एजेंसी को लेकर गलत बयान दे रहे हैं। सारडा, वाशिम में शिवसेना के पूर्व उप जिला प्रमुख रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाए हैं कि सांसद गवली भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। उन्हें पवार व महाराष्ट्र से माफी मांगनी चाहिए।   पत्रकार क्लब में पत्रकार वार्ता में सारडा बोल रहे थे। 

जान को खतरा है, मिल रहीं हैं धमकियां 
सारडा ने दावा किया कि सांसद गवली से उनकी जान को खतरा है। उन पर दो बार हमले हो चुके हैं। फोन पर धमकियां मिल रही हैं। गवली ने वाशिम जिले के रिसोड़ में श्री बालाजी सहकारी पार्टिकल बोर्ड कारखाने को केवल 25 लाख रुपये में निजी सचिव के भावना एग्रो प्रोडक्ट एंड सर्विसेस के नाम कराया। इस भ्रष्टाचार को उजागर करने के बाद से धमकियां मिल रही हैं। पुलिस स्टेशन में शिकायत करने के बाद भी गवली के विरोध में कार्रवाई नहीं हुई। वाशिम जिले की पुलिस गवली के दबाव में काम कर रही है। सारडा ने कहा कि उन्होंने गवली के भ्रष्टाचार की शिकायत ईडी अर्थात प्रवर्तन निदेशालय से की थी। इसी आधार पर ईडी ने वाशिम, रिसोड़, पाथरी औरंगाबाद, मुंबई व यवतमाल में छापामार कार्रवाई की।