दैनिक भास्कर हिंदी: अब ऑनलाइन मिलेगी पोस्टमार्टम रिपोर्ट, 26 जनवरी से नई प्रक्रिया होगी लागू

January 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, दमोह। गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी से शव परीक्षण की रिपोर्ट जरूरतमंदों को तत्काल उपलब्ध कराने के लिए कंप्यूटरीकृत ऑनलाइन रिपोर्ट प्राप्त होगी जिससे न्यायालय पुलिस विभाग को उपलब्ध कराने में विलंब नहीं होगा। यह व्यवस्था दमोह में शुरू की जा रही है इसके लिए डॉक्टरों को प्रशिक्षण भी दिया गया है। जिला चिकित्सालय की डॉक्टर मामले में प्रशिक्षण ले चुके हैं।

उल्लेखनीय है कि वर्तमान में पोस्टमार्टम रिपोर्ट हस्तलिखित होती है लेकिन अब 26 जनवरी से कंप्यूटरीकृत हो जाएगी। स्वभाविक है की रिपोर्ट के ऑनलाइन होने से इसकी जानकारी पुलिस थानों सहित न्यायालय में एक क्लिक पर उपलब्ध हो जाएगी ।पोस्टमार्टम की रिपोर्ट अब जरूरतमंद व्यक्ति एवं संबंध संस्था में पहुंचने में विलंब नहीं होगा । न्यायालय के आदेश पर 26 जनवरी से दमोह में यह रिपोर्ट ऑनलाइन हो जाएगी इसका सॉफ्टवेयर अपडेट कर लिया गया है । सॉफ्टवेयर में मेडिको लीगल रिपोर्ट ऑनलाइन होगी । इसका बड़ा फायदा यह होगा कि चिकित्सक की राइटिंग को समझने के लिए पुलिस अधिवक्ता और पीडि़त के आश्रितों को परेशान नहीं होना पड़ेगा ।

अपडेट हुआ सॉफ्टवेयर
राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र के क्षेत्रीय कार्यालय ने सॉफ्टवेयर को पूरी तरह से अपडेट कर दिया है पहले यह समस्या होती थी कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट डॉक्टर अपनी राइटिंग में पेन से लिख कर दे देते थे जिसे लेकर कई बार प्रकरण की सुनवाई के दौरान समस्या होती थी । कई मामलों में पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी समय पर नहीं मिल पाती थी वहीं कई बार पोस्टमार्टम के बाद फॉरेंसिक लैब सागर  भेजी जाती थी तो उसकी स्थिति भी अब अपडेट रहेगी । ऑनलाइन रिपोर्ट को सुनवाई के दौरान अपडेट किया जा सकेगा ।

डॉक्टरों को प्रशिक्षण
इस सॉफ्टवेयर को समझने एवं संचालित करने के लिए सूचना एवं विज्ञान केंद्र के द्वारा इन विधाओं से जुड़े डॉक्टरों को प्रशिक्षण दिया गया है । इन डॉक्टरों को रिपोर्ट तैयार का उसे ऑनलाइन करने की प्रक्रिया भी बताई गई है । उनकी आईडी और पासवर्ड भी तैयार कराए गए हैं । गणतंत्र दिवस के दिन से सारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट ऑनलाइन देखना प्रारंभ हो जाएगा ।

न्यायालय ने दिया था आदेश
सॉफ्टवेयर के संबंध में 26 फरवरी 2018 को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने आदेश जारी करते हुए प्रदेश सरकार को ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार करने के लिए कहा था कि जिसमें मेडिको लीगल रिपोर्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट साइंटिफिक टेस्ट रिपोर्ट  और फॉरेंसिक लेबोरेटरी रिपोर्ट को ऑनलाइन किया जा सके । इसी आधार पर व्यवस्था शुरू हो रही है यह सॉफ्टवेयर अभी चंडीगढ़ हरियाणा और पंजाब में चलता है स्कोर मध्य प्रदेश के आधार पर तैयार किया गया है ।

इनका कहना है
शव परीक्षण रिपोर्ट वर्तमान में हस्तलिखित दी जाती थी लेकिन अब रिपोर्ट कंप्यूटरीकृत दी जाएगी । इसके लिए डॉक्टरों को प्रशिक्षण भी दिया गया है और शासन के निर्देशानुसार 26 जनवरी से यह व्यवस्था लागू हो जाएगी
डॉ ममता तीमोरी  सिविल सर्जन दमोह