दैनिक भास्कर हिंदी:  ये है सबसे चौड़ा एक्सप्रेस वे, जानिए मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग की खासियत    

March 12th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग कई मायनों में मौजूद एक्सप्रेस वे से अलग होगा। मार्ग पर टकराव से बचने के लिए यह देश में अधिकतम मध्य चौड़ाई वाला सड़क मार्ग होगा। यह चौड़ाई 15 मीटर की होगी। फिलहाल मुंबई-पुणे एक्सप्रेस हाईवे पर सिर्फ 5.5 मीटर का विभाजक  है।

MSRDC का दावा-यात्रा होगी अधिक सुरक्षित
MSRDC के अधिक्षक अभियंता विवेक नवले  ने ‘दैनिक भास्कर’ को बताया कि महामार्गों पर होने वाली दुर्घटनाओं में सबसे ज्यादा मौत वाहनों के आमने-सामने भिड़ने से होती है। इसके मद्देनजर इंडियन रोड कांग्रेस का दिशानिर्देश है कि जमीन की उपलब्धता के हिसाब से महामार्गों पर मध्य चौड़ाई 15 से 22.5  मीटर होनी चाहिए। पर हमने समृद्धि महामार्ग पर मध्य चौड़ाई 15 मीटर रखने का फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि इस हिस्से में पौधारोपण किया जाएगा। इससे इस सुपर एक्सप्रेस वे पर यात्रा बेहद सुरक्षित होगी।

एक्सप्रेस वे होगा मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग
गौरतलब है कि मुंबई-पुणे एक्सप्रेस सड़क दुर्घटनाओं को लेकर कुख्यात हो रहा है। पिछले सात वर्षों में इस मार्ग पर 1400 दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। 706.2 किलोमीटर लंबाई वाला यह महामार्ग 120 फुट चौड़ा होगा। एसएसआरडीसी अधिकारियों के मुताबिक इस मार्ग से मुंबई से नागपुर की यात्रा के दौरान पांच टनल (सुरंग) पार करने होंगे। सुपर एक्सप्रेस वे पर ठाणे से नाशिक के बीच बनने वाली सुरंग महाराष्ट्र का सबसे बड़ा टनल होगा।  इसकी लंबाई लगभग 7.75 किमी होगी। यह नासिक के इगतपुरी से शुरू होगा और ठाणे में फुगेले तक जाएगा।

700 किलोमीटर का होगा सफर
राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग पर कुल 31 टोल नाके प्रस्तावित हैं। सूचना अधिकार कानून (आरटीआई) के तहत टोल टैक्स मामले के जानकार संजय शिरोडकर ने आरटीआई आवेदन के जवाब में जानकारी दी गई। शिरोडकर के अनुसार जब तक यह एक्सप्रेस वे तैयार होगा, मुंबई से नागपुर की यात्रा के लिए 1 हजार 500 से 2 हजार रुपए बतौर टोल टैक्स चुकाने होंगे। राजधानी मुंबई से राज्य की उपराजधानी नागपुर के बीच 700 किलोमीटर का सफर तय करना होगा।