संयुक्त रिपब्लिकन आघाड़ी का शंखनाद: मनपा चुनाव की तैयारी, नेता नहीं, समाज लड़ेगा चुनाव

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। आगामी मनपा चुनाव के लिए रिपब्लिकन पार्टी के गुटों ने एकजुट होकर लड़ने का निर्णय लिया है। यह चुनाव नेता नहीं, बल्कि समाज लड़ेगा। यह आह्वान करते हुए शनिवार को टेकानाका, सिद्धार्थनगर स्थित बैरि. राजाभाऊ खोब्रागडे सभागृह में हुए संयुक्त रिपब्लिकन आघाड़ी के कार्यकर्ता सम्मेलन में 2007 की तरह चुनाव लड़कर मनपा पर नीला झंडा लहराने का संकल्प लिया गया। सम्मेलन की अध्यक्षता में वरिष्ठ रिपब्लिकन नेता भूपेश थूलकर ने की। उद्घाटक के रूप में पीरिपा प्रा. जोगेंद्र कवाड़े उपस्थित थे। प्रा. कवाड़े ने कहा कि आगामी चुनाव महत्वपूर्ण है।  अलग-अलग गुटों के कारण जनता का विश्वास उठता जा रहा है

पार्टी में अलग-अलग गुटों के कारण रिपब्लिकन जनता का विश्वास उठता जा रहा है। रिपब्लिकन कार्यकर्ता और समाज के आग्रह के कारण रिपब्लिकन नेताओं को एक होना पड़ेगा। ऐसा होने पर पार्टी पर विश्वास फिर कायम होगा। इसका फायदा आगामी चुनाव में संयुक्त रिपब्लिकन आघाड़ी को होगा। अब गुटों को छोड़कर नीले झंडे के स्वाभिमान के लिए एकजुट होने का आह्वान कवाड़े ने किया। इस अवसर पर आघाड़ी  के अध्यक्ष व रिपाई आठवले के प्रदेशाध्यक्ष भूपेश थूलकर ने नेताओं और कार्यकर्ताओं को पहल करने का आह्वान किया। कार्यक्रम में हरिदास टेंभुर्णे, प्रा. पी.डी. बोरकर, खोरिपा के सूर्यभान शेंडे, पीरिपा के बालू कोसमकर, आरपीआई गवई गुट के  प्रकाश कुंभे, आंबेडकर गुट के विनोद थूल, सेक्युलर के दिनेश अंडरसहारे, खोब्रागडे के अमृत गजभिये, ऐक्यवादी के प्रा. राहुल मून, स्वाभिमानी रिपब्लिकन पार्टी के विश्वास पाटील आदि भाषण हुए। प्रास्ताविक आघाड़ी के संयोजक दिनेश अंडरसहारे ने किया। संचालन निमंत्रक दिनेश गोडघाटे व आभार डॉ. मनोज मेश्राम ने माना।