दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना संक्रमण के चलते रद्द हुई नागद्वार यात्रा

June 16th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना महामारी के कारण इस वर्ष नागपंचमी पर मध्यप्रदेश स्थित पचमढ़ी में नागद्वार यात्रा का आयोजन नहीं किया जाएगा। श्री महादेव तथा श्री नागद्वार यात्रा पंचमढ़ी बचाव कृति समिति की बैठक में नागद्वार यात्रा रद्द करने का निर्णय लिया गया। उल्लेखनीय है कि नागपंचमी पर मध्यप्रदेश के श्री नागद्वार धूपगढ़ पचमढ़ी में नागद्वार यात्रा का आयोजन किया जाता है, जिसमें महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के लाखों भक्त शामिल होते हैं। इनमें बड़ी संख्या नागपुर के भक्तों की होती है। यात्रा के दौरान नागपुर के कई सेवाभावी मंडलों द्वारा पहाड़ी क्षेत्रों में विभिन्न व्यवस्था की जाती है।   

सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन संभव नहीं
श्री महादेव तथा श्री नागद्वार यात्रा पंचमढ़ी बचाव कृति समिति की बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष दौलतराव कावले ने की। बैठक में श्री नागद्वार पहाड़ी क्षेत्र के प्रमुख स्थान श्री पद्मशेष प्रथमद्वार, काजरी, पश्चिमद्वार, अग्निद्वार, चिंतामणि, चित्रशाला आदि क्षेत्रों में सेवा कार्य करने वाले मंडलों के पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कहा गया कि कोरोना महामारी के कारण पहाड़ी क्षेत्र से गुजरते समय सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था करना संभव नहीं है। यात्रा में प्रतिदिन 50 हजार से 1 लाख लोग शामिल होते हैं जिससे महामारी बढ़ने की आशंका है। इस संभावित खतरे के मद्देनजर सभी मंडलों ने नागद्वार यात्रा की व्यवस्था करने में असमर्थता जताई। इसकी जानकारी सरकार को दी जाएगी। समिति ने सावन मास में घर में ही सवा महीने पूजा-अर्चना और ऋषिपंचमी पर कढ़ई करने की अपील की है। बैठक में उमाकांत झाडे, रवींद्र ठाकरे, प्रमोद सोनरघरे, भोलानाथ घाटाखाये, सुधाकर सार्वे, गजानन चौधरी, महेश दुधे, दामोधर मस्के, रमेश गौरकर, हीरामन शेंडे, जितेंद्र गिरडकर, गोविंद तलमले, विजय सिन्हा, विजय लुटे आदि उपस्थित थे। 
 


 
 

खबरें और भी हैं...