मर्डर: औरंगाबाद में नागपुर के कैब चालक की गला घोंटकर हत्या

January 12th, 2022

डिजिटल डेस्क,नागपुर। संतरानगरी के एक कैब चालक की औरंगाबाद के  करमाड़ में गला घोंटकर हत्या करने का मामला सामने आया है। मृतक विशाल रामटेक, नागपुर निवासी है। इस मामले में औरंगाबाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों का नाम विशाल राजेंद्र मिश्रा, शिवाजी दत्तू बनसोड़े और सुदर्शन जनकनाथ चव्हाण औसा, लातूर निवासी है। न्यायालय ने तीनों आरोपियों को 13 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। \

नागपुर से बुकिंग कर विशाल को ले गए थे : सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विशाल वासुदेव रामटेके (32), दाभा, नागपुर निवासी कैब चालक था। 31 दिसंबर 2021 को उसे औरंगाबाद जाने के लिए बुकिंग मिली। बुकिंग विशाल मिश्रा ने की की। आपराधिक छवि का विशाल मिश्रा पुणे में कैब चलाता था। उसकी कैब नलदुर्ग पुलिस ने लूटपाट के मामले में जब्त कर ली है। आरोपी विशाल ने अपने दोस्त शिवाजी और सुदर्शन के साथ मिलकर जब्त कार की तरह दूसरी कार उड़ाने की योजना बनाई। तीनों आरोपी नागपुर आए और विशाल मिश्रा ने विशाल रामटेके की कैब औरंगाबाद जाने के लिए बुक की। आरोपी कैब चालक विशाल रामटेके को औरंगाबाद जिले में करमाड़ के पास गोलटगांव लेकर पहुंचे और वहां विशाल रामटेके की दिसंबर माह में गला दबाकर हत्या कर दी। 

भाई ने की शव की शिनाख्त
हत्याकांड के दिन रास्ते में 11 से 12 बजे के दौरान अंधेरे में तीनों आरोपियों ने लघुशंका के बहाने रामटेके को रोका। रामटेके की आंखों में मिर्च पाउडर डालकर नायलॉन रस्सी से उसका गला घोंट दिया। पश्चात आरोपी शव को वाहन में डालकर जालना से आगे औरंगाबाद रास्ता स्थित गोलटगांव के जंगल की झाड़ियों में फेंककर फरार हो गए। घटना के दूसरे दिन शव मिलने पर मृतक के भाई ने शव की शिनाख्त की। जांच में 28 से 30 दिसंबर के बीच कैब बुकिंग होने की बात स्पष्ट हुई। 

किराए के कमरे में छिपे थे आरोपी  
घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी पुणे में एक किराए के कमरे में छिपकर रहने लगे। इस दौरान पुलिस ने आरोपियों को धरदबोचा। उसके बाद इस मामले का खुलासा हुआ। औरंगाबाद के करमाड़ थाने में हत्या का मामला दर्ज हुआ था।