दैनिक भास्कर हिंदी:  राहुल गांधी मिले ताे सही पर नहीं सुन पाए बात, आजाद से की शहर कांग्रेस की शिकायत

February 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर कांग्रेस में गुटबाजी को लेकर चल रहे घमासान के बीच कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। गुरुवार को करीब 2 मिनट की इस मुलाकात में केवल अभिवादन किया किया। संगठन मामले पर किसी तरह की बात नहीं हो पायी। बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी। प्रियंका गांधी से मुलाकात भी केवल फोटो खिंचवाने तक सीमित रही। इस बीच पार्टी महासचिव गुलाम नबी आजाद ने दोनों गुट के कार्यकर्ताओं से विस्तार से चर्चा की। 
 

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार व सतीश चतुर्वेदी को पार्टी में वापस लाने के विषय को लेकर कांग्रेस के दोनों गुट के नेता मंगलवार को दिल्ली गए हुए है। एक गुट का नेतृत्व शहर कांग्रेस के अध्यक्ष विकास ठाकरे व दूसरे गुट का नेतृत्व मनपा के नेता प्रतिपक्ष तानाजी वनवे कर रहे हैं। कांग्रेस एससी सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितीन राऊत, वनवे गुट के संरक्षक बने हुए हैं। उनके साथ पूर्व सांसद गेव आवारी, पूर्व विधायक अशोक धवड़, विधायक सुनील केदार व नगरसेवक हैं। ठाकरे के साथ प्रदेश सचिव उमाकांत अग्निहोत्री, शहर महासचिव अभिजीत वंजारी,नगरसेवक संजय महाकालकर सहित अन्य पदाधिकारी शामिल है। दोनों गुट का यही कहना है कि लोकसभा चुनाव में नागपुर से कांग्रेस उम्मीदवार सहमति से होना चाहिए। ठाकरे समर्थकों ने विरोधी गुट के नेताओं व उनकी उम्मीदवारी के दावे का विरोध किया है। वनवे गुट के समर्थक सीधे तौर पर ठाकरे को शहर अध्यक्ष पद से हटाने की मांग कर रहे हैं।

बुधवार को दोनों गुट के पदाधिकारियों ने प्रियंका गांधी से मिलकर उन्हें महासचिव पद पर नियुक्ति के लिए शुभकामनाएं दी थी। ठाकरे समर्थकों ने ज्योतिरादित्य सिंधिया, गुलाम नबी आजाद समेत अन्य से मुलाकात की थी। दोनों गुट के पदाधिकारी नागपुर के मामले पर प्रियंका गांधी से कोई बात नहीं कर पाए थे। वनवे समर्थकों ने ए.के अटोनी के अलावा मलिकार्जुन खडगे से मुलाकात की थी। गुरुवार की सुबह वनवे समर्थकों ने गुलाम नबी आजाद से मुलाकात कर नागपुर के मामले पर चर्चा की करीब 1 घंटे तक चर्चा के दौरान चतुर्वेदी की कांग्रेस में वापसी के मामले पर जोर दिया गया। 2017 में मनपा चुनाव में पार्टी विरोधी कार्य करने के आरोप में चतुर्वेदी को प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने पार्टी से बाहर कर दिया है। राहुल गांधी से मिलने के लिए दोनों गुट के पदाधिकारी प्रयास कर रहे थे। सुबह अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की बैठक होने के कारण राहुल गांधी किसी से नहीं मिल पाए। दोपहर में बैठक निपटाकर राहुल गांधी अपने कक्ष से बाहर आए तो उनके साथ एससी सेल के अध्यक्ष के नाते नितीन राऊत भी थे। राऊत ने नागपुर से पहुंचे वनवे समर्थक कार्यकर्ताओं का परिचय कराया। अभिवादन चर्चा के बाद राहुल गांधी आगे चल दिए। गुरुवार की शाम तक दोनों गुट के कार्यकर्ता नागपुर के लिए रवाना हो जाएंगे। 

खबरें और भी हैं...