पालकमंत्री ने कहा-: नागपुर जिला तीसरी लहर की ओर, सावधानी जरूरी

January 10th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  पालकमंत्री डा. नितीन राऊत ने स्वीकार किया कि जिला कोरोना की तीसरी लहर की आेर बढ़ रहा है। बेड, ऑक्सीजन, दवा, वैद्यकीय मनुष्यबल पर्याप्त मात्रा में  उपलब्ध है। अधिक रोगी नहीं बढ़ें, इसका ध्यान सभी को रखना है। कोरोना  प्रोटोकाल का पालन करें, भीड़ नहीं करें। कोरोना की दो लहर में जिस तरह सहयोग दिया, वैसा ही सहयोग आगे भी देें।  


टीकाकरण अच्छा उपाय : पालकमंत्री डा. राऊत ने व्यापारी, कर्मचारी, दुकानदार, आम लोग व वैद्यकीय अधिकारियों से सहयोग की अपील की।  20 दिसंबर से 8 जनवरी तक लगभग 3 हजार लोग जिले में कोरोना संक्रमित हुए हैं।  संक्रमण दर  7.75 फीसदी तक पहुंचा है।  कोरोना संक्रमण बढ़ना चिंताजनक है। मृत्यु दर जीरो है, लेकिन रोगी बढ़ने पर स्थिति खराब हो सकती है। जनता को खुद होकर अनुशासन में रहना होगा। मास्क लगाना, सुरक्षित अंतर रखना व  सैनिटाइजर का इस्तेमाल बढ़ाना जरूरी है।   टीकाकरण अच्छा उपाय है। जिले में अभी भी लाखों लोगों ने कोरोना का दूसरा टीका नहीं लगाया है। तीसरी लहर से निपटने के  लिए 100 फीसदी टीकाकरण जरूरी है।

27 हजार बेड उपलब्ध 
दूसरी लहर में जिले में बेड की संख्या 8 हजार थी। अब बढ़कर 27 हजार की गई है।  ऑक्सीजन क्षमता 680 मीट्रिक टन थी। फिलहाल मांग केवल 60 मीट्रिक टन है। होम आइसोलेशन रोगियों के लिए  शहर व ग्रामीण में नियंत्रण कक्ष तैयार किया गया है। एंटीजन व आरटीपीसीआर सेेंटर शुरू किए गए हैं।  हर दिन 9 हजार टेस्ट करने की क्षमता है। जिले में रात 11 से सुबह 5 तक जमावबंदी है।  5 से ज्यादा लोगों के एक साथ जमा होने पर दिन में भी पाबंदी है। व्यापार-उद्योग बंद न हो, यही सरकार की भूमिका है। इस दौरान जिलाधीश आर. विमला भी मौजूद थीं।