दैनिक भास्कर हिंदी: एयरगन से निकले छर्रे से गई दोस्त की जान

January 9th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गिट्टीखदान क्षेत्र के दाभा क्षेत्र में एक युवक अपने करीबी दोस्त के घर उसे एयरगन (छर्रेवाली बंदूक) दिखाने ले गया। दोस्त ने उसे चलाने की कोशिश की, लेकिन वह चल नहीं रही थी। एयरगन में पहले से छर्रा फंसा हुआ था। जैसे ही उसने एयरगन का ट्रिगर दबाया तो अंदर  फंसा छर्रा सामने खड़े दोस्त की आंख में जा घुसा, जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक का नाम लोकेश गजभिये (42),  दाभा चौक निवासी है। पुलिस ने मृतक लोकेश गजभिये के करीबी मित्र पंकज वाणी (40), दाभा चौक निवासी के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है। 

मजाक में ट्रिगर दबा दिया
पुलिस सूत्रों के अनुसार दोपहर करीब 3 बजे लोकेश के यहां उसका दोस्त पंकज वाणी उसके घर एयरगन लेकर गया। यह दोनों बचपन के दोस्त थे। लोकेश मजदूरी करता था। पंकज किसी कंपनी में सीनियर एक्जीक्यूटिव के पद पर कार्यरत है। पंकज जब एयरगन के बारे में लोकेश को समझा रहा था, तब लोकेश ने उससे कहा कि, यह चलती कैसे है। पंकज, लोकेश को घर के बाहर लेकर गया और  एयरगन चलाई, लेकिन एयरगन नहीं चल रही थी। वह गन में छर्रे डालने की कोशिश कर रहा था, लेकिन गन में पहले से छर्रा फंसा था। एयरगन बिगड़ तो नहीं गई, कहते हुए पंकज ने मजाक में दोस्त की ओर एयरगन कर उसका ट्रिगर दबा दिया। 

आंख से निकली खून की धार
अंदर फंसा छर्रा लोकेश की बायीं आंख में जा घुसा। लाेकेश की आंख से खून की धार निकल पड़ी। वह नीचे गिर पड़ा। पंकज अन्य लोगों की मदद से लोकेश को उपचार के लिए अस्पताल ले गया। इस दौरान पंकज ने पुलिस को फोन पर जानकारी दी, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पूर्व ही  लोकेश की मौत हो गई। गिट्टीखदान पुलिस ने गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज किया। पंकज को गिरफ्तार कर लिया।