दैनिक भास्कर हिंदी:  बुटीबोरी से सालवा तक बनेगा रेल कॉरिडोर, कम होगा नागपुर स्टेशन पर मालगाड़ियों का भार

February 6th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  बुटीबोरी से सालवा स्टेशन तक मालगाड़ियों के लिए स्पेशल कॉरिडोर बनाया जा रहा है, इससे मुंबई से आनेवाली मालगाड़ियों को नागपुर स्टेशन पर न आते हुए बुटीबोरी से ही हावड़ा व दिल्ली जाने के लिए मार्ग मिल जाएगा और इस प्रकार नागपुर स्टेशन पर मालगाड़ियों का भार कम हो जाएगा।  900 करोड़ के इस प्रोजेक्ट को साकार करने के लिए महाराष्ट्र रेल इंफ्राट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड की मदद ली जानेवाली है। इसका फायदा नागपुर स्टेशन पर आनेवाली उन एक्सप्रेस व पैसेंजर गाड़ियों को मिलेगा, जो मालगाड़ियों के आवागमन से आउटर पर खड़ी रहती हैं।

अब ऐसा होता है  
वर्तमान में चेन्नई व मुंबई दिशा से हावड़ा की ओर जानेवाली मालगाड़ियों को नागपुर स्टेशन से होकर जाना पड़ता है। नागपुर-सेवाग्राम लाइन वैसे ही यात्री गाड़ियों की क्षमता से ज्यादा ढुलाई कर रही है। ऐसे में मालगाड़ियों का भी लोड कई बार गाड़ियों की लेट-लतीफी का कारण बनता है। 

कई बार नुकसान सहना पड़ता है
नागपुर स्टेशन पर रोजाना 125 एक्सप्रेस गाड़ियों का आवागमन होता है। कई बार यात्री गाड़ियों को प्राथमिकता देते हुए मालगाड़ियों को घंटों आउटर पर रोका दिया जाता है। इससे रेलवे को कई बार नुकसान भी सहना पड़ता है। वहीं, व्यापारियों के सामने रेलवे की छवि भी खराब होती है। इन्ही सब बातों को ध्यान में रखते हुए भारतीय रेल मालगाड़ियों को मुख्य स्टेशनों से बाहर रखने का प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में सालवा से बुटीबोरी तक कॉरिडोर बनाया जानेवाला है। 

लोड कम होने का यह  फायदा होगा
वर्तमान में दिल्ली से हावड़ा की ओर जानेवाली गाड़ियों को गोधनी-कलमना लाइन से भेजा जाता है। ऐसे में इन गाड़ियों का लोड वैसे ही नागपुर स्टेशन पर कम हो गया है। अब सालवा-बुटीबोरी लाइन बनने से मुंबई से हावड़ा दिशा में व हावड़ा से मुंबई जानेवाली मालगाड़ियों को इसी लाइन से भेजने से इन गाड़ियों का भी लोड नागपुर स्टेशन पर कम होगा। ऐसे में केवल दिल्ली से मुंबई व मुंबई से दिल्ली जानेवाली गाड़ियां ही नागपुर स्टेशन से होकर जाएंगी। इसका सीधा असर यात्री गाड़ियों की समयबद्धता पर पड़ेगा।  

खबरें और भी हैं...