दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर के लुटेरों ने लूटा था पेट्रोल पंप, कोतवाली पुलिस ने किया खुलासा

April 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, सिवनी। बंडोल थाना क्षेत्र में पेट्रोल पंप में लूट के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने एक नाबालिग सहित दो आरोपियों को धर दबोचा है। इस मामले में दो आरोपी फरार हैं। पुलिस की एक टीम उन आरोपियों की पतासाजी में लगी है। सभी आरोपी ऑटो चलाने जैसे काम करते हैं और बीच बीच में आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं। सभी आरोपियों के खिलाफ महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के थानों में विभिन्न मामले दर्ज हैं।
 

पेट्रोलपंप में हुई थी लूट
जिले के बंडोल थाने के पाल पेट्रोल पंप में आठ और नौ अप्रैल की रात को पांच नकाबपोशों ने हथियार दिखाकर 35 हजार रुपए की लूट कर ली थी। मामला चूंकि सत्तारूढ़ दल के जिलाध्यक्ष के पंप से जुड़ा था इसलिए मीडिया में शीघ्र ही सुर्खिंयों में आ गया। पुलिस अधीक्षक ने इस मामलेमें सुराग देने वालों को 20 हजार रुपए दिए जाने की घोषणा भी की थी। मामला सीसीटीवी में भी कैद हो गया था लेकिन मुंह में कपड़ा बंधे होने के कारण आरोपियों की पहचान नहीं हो पा रही थी।
 

अमित दाणी ने किया खुलासा
इस मामले में बंडोल के अलावा डूंडासिवनी, कोतवाली पुलिस भी सक्रिय हो गई थी। माना यह जा रहा था कि लूट के बाद आरोपी सिवनी की ओर भागे हैं। ऐसे में संभावना यही बन रही थी कि आरोपी नागपुर, छिंदवाड़ा या बालाघाट क्षेत्र के हो सकते हैं। कोतवाली थाने का प्रभार संभालते ही अमित दाणी ने इस मामले को अपने हाथ में ले लिया। पुलिस ने फोन कॉल, लोकेशन आदि के जरिए सुराग तलाशने शुरू किए और आरोपियों की पहचान कर ली।
एसपी तरुण नायक ने बताया कि घटना की कार्यप्रणाली औ्र आरोपियों के हुलिए के आधार पर मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर दिया गया था।

 

जिसमें पाया गया कि उक्त लूट की वारदात को नागपुर के सोमलवाड़ा और रामेश्वरी निवासी शैलेन्द्र उर्फ सानू शुक्ला, हिमांशु फुलझड़े, अक्षय उर्फ अंकुश वासनिक, किसन कुलदीप और 16 वर्षीय एक नाबालिग भी शामिल था। पुलिस ने नागपुर में रेड कर हिमांशू, अक्षय और नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी से लूटा हुआ मोबाइल, पांच हजार रुपए नगद और घटना में प्रयुक्त चार पहिया वाहन क्रमांक एमएच 40 केआर 8296 को भी जब्त किया।