दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर : 45 प्लस वालों को दूसरा डोज, 96 केंद्रों पर होगा टीकाकरण

May 13th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राज्य सरकार के निर्देशानुसार सिर्फ 45 प्लस वालों को गुरुवार को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया जाएगा। राज्य सरकार ने इस उम्र के नागरिकों को दूसरा डोज देने के लिए वैक्सीन उपलब्ध कराई है। मनपा के सभी 96 केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। अगले आदेश तक सिर्फ दूसरा डोज ही नागरिकों को दिया जाएगा। मेडिकल, डॉ. आंबेडकर रुग्णालय इंदोरा और स्व. प्रभाकर दटके मनपा महल रोगनिदान केंद्र में को-वैक्सीन का दूसरा डोज उपलब्ध रहेगा। अन्य केंद्रों पर कोविशिल्ड का दूसरा डोज दिया जाएगा। मनपा के अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी ने बताया कि  फिलहाल 18 प्लस के नागरिकों का टीकाकरण राज्य सरकार के निर्देश पर स्थगित किया गया है। महापौर दयाशंकर तिवारी ने कहा कि सरकार के निर्देश के बाद 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन रोका गया है। वैक्सीन उपलब्ध होने के बाद और सरकार के निर्देश अनुसार इस उम्र के नागरिकों का वैक्सीनेशन फिर शुरू किया जाएगा।

शहर में अधूरा, ग्रामीण में भी लक्ष्य नहीं हो पाया पूरा
बुधवार को जिले में 9367 लोगों को पहला और दूसरा डोज दिया गया। यह 150 केंद्रों पर दिए गए। इसमें से 146 केंद्रों पर ग्रामीण में टीकाकरण किया जा रहा है। 4 केंद्र शहर के हैं। शहर के 4 केंद्रों में 963 लोगों को टीका दिया गया, जिसमें 30 को पहला और 722 लोगों को दूसरा डोज दिया गया। ग्रामीण में 14800 का लक्ष्य था, लेकिन  8404 लोगों को ही टीका लगाया गया। इसमें 4112 को पहला और 4292 को दूसरा डोज लगाया गया। 18 से 44 वर्ष के सिर्फ 262 लोगों को ग्रामीण में टीका लगाया गया,  जबकि शहर में 18 से 44 वर्ष के एक भी व्यक्ति को टीका नहीं लगाया गया। 

500 लोग बिना वैक्सीन लौटे, मेडिकल में हंगामा 
कोरोना नियंत्रण को लेकर केंद्र की ओर से कोविशील्ड और कोवैक्सीन की आपूर्ति की जा रही है। दूसरी ओर मेडिकल के टीकाकरण केंद्र में आपूर्ति सीमित कर दी गई है। बुधवार को दोपहर 12 से 4 इन चार घंटों में 400 डोज कोवैक्सीन के पूरे हुए। इसके बाद वैक्सीनेशन बंद किया गया। इंतजार में खड़े लोगों ने यह देख हंगामा शुरू कर दिया। डॉक्टरों के साथ झगड़ा करने लगे। आखिर में प्रवेश द्वार बंद किए गए। मेडिकल में यह चर्चा थी कि महानगरपालिका वैक्सीनेशन की आपूर्ति में पक्षपात कर रही है। मंगलवार को वैक्सीन नहीं होने के कारण मेडिकल में टीकाकरण बंद था। जैसे ही जानकारी मिली कि बुधवार को वैक्सीन दी जाएगी, बुजुर्ग सुबह 6 बजे से ही जमा हो गए, हालांकि वैक्सीन 10.30 बजे आई। 12 बजे वैक्सीनेशन की शुरुआत की गई। केवल 406 डोज दिए गए थे कि वैक्सीनेशन बंद करने की जानकारी दी गई।  उस समय केंद्र पर 500 से अधिक लोगों की भीड़ थी। सुरक्षाकर्मियों ने नागरिकों को भीड़ नहीं करने के  लिए समझाया लेकिन नियंत्रित करना कठिन था। चिकित्सकों ने भी हस्तक्षेप नहीं किया।