दैनिक भास्कर हिंदी: विंबलडन के क्वॉलिफाइंग मैच में लाइन अंपायर होंगी नागपुर की सुप्रिया चटर्जी

April 27th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  लॉन टेनिस की जाने-माने चेयर अंपायर सुप्रिया चटर्जी वर्ष के तीसरे ग्रैंड स्लैम विंबलडन के क्वॉलिफाइंग मुकाबलों में लाइन अंपायर की भूमिका निभाने जा रही हैं। लंबे समय से नागपुर के टेनिस जगत को अपनी सेवाएं दे रहीं सुप्रिया विंबलडन क्वॉलिफाइंग मुकाबलों के उपरांत लंदन में होने वाले आईटीएफ जूनियर लॉन टेनिस चैंपियनशिप में चेयर अंपायर की जिम्मेदारी निभाएंगी। 

पीछे मुड़कर नहीं देखा
सुप्रिया चटर्जी ने लॉन टेनिस अंपायर के अपने कैरियर के दौरान कई महत्वपूर्ण प्रतियोगिताओं में चेयर अंपायर का दायित्व सफलतापूर्वक निभाया है, जिसमें मुख्य रूप से केईबी हाना बैंक कोरियन ओपन 2018, प्रुडेंशियल हांगकांग टेनिस ओपन 2018, मुंबई ओपन डब्लूटीए 2018, ऑस्ट्रेलियन ओपन एशिया पैसिफिक वाइल्डकार्ड प्लेऑफ 2019 जैसे टूर्नामेंटों का समावेश है।

 लाइन अंपायर के रूप में किंगफिशर ओपन से अंतरराष्ट्रीय करियर आरंभ करने के बाद उन्हें फिर पलटकर देखने की जरूरत नहीं पड़ी। सुप्रिया ने 12 वर्ष पहले टेनिस अंपयारशिप को करियर के बनाने का निर्णय लिया था। उपराजधानी के जाने-माने टेनिस कोच संतोष चैटर्जी की पुत्री सुप्रिया की विंबलडन के क्वॉलिफाइंग मुकाबलों में लाइन अंपायर के रूप में हुई नियुक्ति का नागपुर जिला हार्डकोर्ट टेनिस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अभिनंदन किया है। सुप्रिया नागपुर के गोंडवाना क्लब, सीपी क्लब और रामनगर स्थित एमएसएलटीए टेनिस सेंटर में ऑल इंडिया टेनिस एसोसिएशन की पर्यवेक्षक के रूप में सैकड़ों प्रतियोगिताओं का सफलता पूर्वक संचालन कर चुकीं हैं। उन्हें अपने परिवार से हमेशा ही सहयोग मिला है। पिता संतोष चैटर्जी के साथ टेनिस कोर्ट पर सुप्रिया नियमित रूप से डटी हुई दिखाई देती रही हैं।

हर प्रकार से श्रेष्ठ देने की रहेगी कोशिश
सुप्रिया ने कहा कि विंबलडन क्वॉलिफाइंग मुकाबलों के दौरान बेहतर करने की मेरी पूरी कोशिश रहेगी। विंबलडन जैसे टूर्नामेंट का हिस्सा बनना हर किसी का सपना होता है और आने वाले दिनों में मेरा यह सपना पूरा होने जा रहा है। मैं इसके लिए काफी उत्साहित हूं। मैंने पिछले वर्ष ही इसका आवेदन दिया था, लेकिन इस वर्ष मौका दिया जा रहा है। इसके लिए मैं, मेंटर नितीन कनवर का बेहद आभारी हूं। उन्होंने मुझे इस काबिल बनाया है। 
 

खबरें और भी हैं...