उठ रहे सवाल: नागपुर यूनिवर्सिटी : एग्जाम के ठीक पहले लीक हुआ पर्चा

November 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय की शीतकालीन परीक्षा के ठीक पहले प्रश्न-पत्र लीक होने की चर्चा गर्म है। विश्वविद्यालय की परीक्षा 5 दिसंबर से शुरू हो रही है, जिसके लिए प्रश्न-पत्र तैयार करने का काम जोरों पर चल रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह प्रश्न-पत्र बीएससी के तीसरे सेमेस्टर के फिजिक्स-2 का पेपर है। इसे तैयार करने वाली पेपर सेटर या मॉडरेटर ने ही इसे वाट्सएप पर लीक कर दिया, जिसके बाद विवि वर्ग में खलबल मच गई है। हालांकि विवि प्रशासन का प्रथम दृष्टया तर्क यही है कि ये प्रश्न-पत्र नहीं, बल्कि मेमोरेंडम है, जिसे पेपर जांचते वक्त काम में लिया जाता है। लेकिन यह नागपुर विश्वविद्यालय का है या नहीं, यह जांच का विषय है।

गोपनीयता पर सवाल?
दरअसल विवि में परीक्षा के लिए प्रश्न-पत्र बड़े ही गोपनीय तरीके से विश्वविद्यालय के भरत नगर स्थित परीक्षा विभाग में तैयार किए जाते हैं। जहां पेपर सेटर प्रश्न-पत्र तैयार करते हैं, वहां कड़ी सुरक्षा होती है। ताकि कोई भी अनचाहा व्यक्ति अंदर न आ सके या प्रश्न-पत्र बाहर नहीं जा सके। प्रश्न-पत्र की तस्वीर लेने या इसे वाट्सएप पर किसी को भी भेजने की सख्त मनाही होती है, लेकिन इस तरह सरेआम वाट्सएप पर पर्चा लीक होने से विवि की परीक्षा प्रणाली की गोपनीयता पर सवाल खड़े हो गए हैं।

ऐसे हुआ खुलासा
इस कथित प्रश्न-पत्र को वाट्सएप पर लीक करने वाली महिला शिक्षिका ने मंगलवार शाम 7 बजे के करीब इस पूरे 8 पन्ने के प्रश्न-पत्र को गलती से शिक्षकों के एक वाट्सएप ग्रुप पर भी पोस्ट कर दिया। इस प्रश्न-पत्र में 50 अंक के लिए प्रश्न पूछे गए हैं। हालांकि इसमें उत्तर भी लिखे हैं। पोस्ट होते ही शिक्षक वर्ग में हड़कंप मचा हुआ है। ऐसे में अब सवाल उठ रहे हैं कि आखिर यह महिला शिक्षक इस कथित प्रश्न-पत्र किसे भेज रही थी? अगर यह प्रश्न-पत्र गलती से भी ग्रुप पर पोस्ट हुआ है, तो आखिर इसे वाट्सएप पर किसे भेजा जा रहा था, इसकी भी जांच जरूरी है।

 मामले की जांच करेंगे, इसके बाद तय होगा  
लीक हुआ प्रश्नपत्र नागपुर विश्वविद्यालय का नहीं है ऐसा लगता है, क्योंकि उसमें उत्तर भी लिखे हैं। यह मेमोरेंडरम जैसा कुछ लग रहा है, क्योंकि इस पर उत्तर भी लिखे हैं। फिर भी मामले की हम जांच करेंगे। - डॉ.प्रफुल्ल साबले, परीक्षा नियंत्रक, नागपुर विश्वविद्यालय