चेक से हो रही थी घूस वसूली : मुआवजा के लिए 6 लाख की रिश्वत मांगने वाला नायब तहसीलदार गिरफ्तार

February 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। रेल परियोजना के लिए अधिग्रहित जमीन का मुआवजा देने के लिए 6 लाख रुपए की रिश्वत लेने वाले भिवंडी के नायब तहसीलदार विठ्ठल गोसावी समेत तीन आरोपियों को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने गिरफ्तार किया है।  शिकायतकर्ता को 55 लाख रुपए का मुआवजा मिलना था लेकिन आरोपियों ने इसे देने के लिए 8 लाख की घूस मांगी थी। मोलभाव के बाद 6 लाख में सौदा तय हुआ। आरोपियों ने दो लाख रुपए की घूस नकद और चार लाख रुपए से चेक लिया था।

तलाशी के दौरान एसीबी को आरोपी के पास से अलग-अलग बैंकों के 43 चेक मिले जिसमें 2 करोड़ 34 लाख 73 हजार 100 रुपए की रकम भरी हुई थी। एसीबी को शक है कि बरामद चेक दूसरे लोगों को मुआवजे के रकम देने के लिए घूस के रूप में ली गई है। एसीबी के एक अधिकारी ने बताया कि शिकायतकर्ता की शहापुर इलाके में जमीन है। कल्याण कसारा के बीच रेलवे लाइन बिछाने के लिए यह जमीन अधिग्रहित की गई है। जिसके मुआवजे के रुप में उन्हें 55 लाख रुपए दिए जाने हैं। लेकिन भिवंडी के नायब तहसीलदार व उपविभागीय अधिकारी गोसावी ने मुआवजा देने के लिए घूस मांगी। सौदेबाजी में विजय भोईर नाम के व्यक्ति ने बिचौलिए के तौर पर काम किया और घूस के पैसे और चेक लक्ष्मण राजपुरोहित नाम के आरोपी ने स्वीकार किए। आरोपियों ने कितने लोगों से इस तरह की घूस की रकम ली है इसकी छानबीन कर रही है। 

खबरें और भी हैं...