दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी कैबिनेट में ज्योतिरादित्य सिंधिया की जगह तय ! मिल सकता है रेल मंत्रालय

June 13th, 2021

हाईलाइट

  • मोदी कैबिनेट का होगा विस्तार
  • सिंधिया को जगह मिलना तय !
  • मिल सकता है रेल मंत्रालय

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश में साल 2020 में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का तख्तापलट करने में अहम भूमिका निभाने वाले राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी मंत्रिमंडल में बड़ा मंत्रालय मिलने की उम्मीद जगी है। माना जा रहा है कि सिंधिया की मोदी कैबिनेट में जल्द एंट्री होने वाली है। मनमोहन सिंह की सरकार में टेलीकॉम,आईटी, इंडस्ट्रीज,कॉमर्स जैसे मंत्रालय संभाल चुके सिंधिया को मोदी सरकार 2.0 में रेलवे या शहरी विकास या मानव संसाधन मंत्रालय दिया जा सकता है। हालांकि सिंधिया समर्थकों का कहना है कि उन्हें रेलवे की कमान मिल सकती है। 

गौरतलब है कि सिंधिया को भाजपा में शामिल हुए 15 महीने हो चुके हैं। अब भाजपा उनसे किया वादा पूरा करने जा रही है। इसके संकेत दिल्ली से लेकर मध्यप्रदेश तक हैं। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि मोदी ज्योतिरादित्य को कैबिनेट मंत्री बनाएंगे। इसकी वजह यह है कि मनमोहन सरकार में भी उन्होंने अपने कामों के चलते एक एक्टिव मंत्री की छवि बनाई थी। सूत्रों की मानें, तो भाजपा का फोकस अब पार्टी में यूथ लीडरशिप को डेवलप करना है। इसे ध्यान में रखते हुए मोदी मंत्रिमंडल में मध्यप्रदेश कोटे से ज्योतिरादित्य सिंधिया, असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, ओडिशा के बैजयंत पांडा, महाराष्ट्र से देवेंद्र फडनवीस सहित कई युवा चेहरों को मौका मिल सकता है।

कैबिनेट में बदलाव क्यों?
कैबिनेट विस्तार की अटकलों के बीच ये सवाल भी उठ रहे हैं कि आखिर अभी फेरबदल या विस्तार की जरूरत क्या है। इसका सबसे बड़ा जवाब है उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनाव। दरअसल कुछ ही महीनों में उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने है। उससे पहले यूपी कैबिनेट में भी बड़े बदलाव प्रस्तावित हैं। जातिगत और दलगत समीकरणों को साधने के लिए यूपी में बहुत जल्द कैबिनेट विस्तार होगा। उसी कड़ी में ये काम राष्ट्रीय स्तर पर भी होगा। पिछले कुछ दिनों से जिस तेजी से समीक्षा हो रही है। उसे देखते हुए ये संभावनाएं जताई जा रही हैं कि यूपी से जुड़े नेताओं को मोदी कैबिनेट में ज्यादा जगह मिल सकती है। 

ये चेहरे आ सकते हैं नजर!
यूपी चुनाव से पहले खुद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह यूपी के कई क्षेत्रीय दलों के नेताओं  से अलग अलग मुलाकात कर चुके हैं। इन नेताओं में अपना दल की अनुप्रिया पटेल भी शामिल हैं। अनुप्रिया पहले मोदी कैबिनेट में  बतौर स्वास्थ्य राज्य मंत्री काम कर चुकी हैं। पर दूसरी बार उन्हें ये मौका नहीं मिला। अब उम्मीद जताई जा रही है कि अनुप्रिया पटेल मोदी कैबिनेट का हिस्सा हो सकती हैं। मध्यप्रदेश के कोटे से राज्यसभा पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मिनिस्टर इन वेटिंग ही बताए जा रहे हैं। ये उम्मीद जताई जा रही है कि उन्हें भी इस विस्तार में कोई मंत्रालय सौंपा जा सकता है। इससे पहले यूपीए सरकार में वो कैबिनेट का हिस्सा रह चुके हैं। 

खबरें और भी हैं...