दैनिक भास्कर हिंदी: बिडला कॉरपोरेशन को एनजीटी का नोटिस

July 27th, 2017

डिजिटल डेस्क,सतना। आबादी क्षेत्र में असुरक्षित माइनिंग चलाने और पर्यावरणीय सुरक्षा के तय मापदंडों का पालन नहीं करने समेत कई गंभीर मुद्दों को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने बिडला कॉरपोरेशन को नोटिस दिया है। एनजीटी की भोपाल स्थित सेंट्रल जोनल बेंच ने बिड़ला कारपोरेशन लिमिटेड को नोटिस देकर जवाब तलब किए है। जस्टिस महिप सिंह और एक्सपर्ट मेंबर सत्यवान सिंह ने इसी सिलसिले में यहां के कलेक्टर, नगर निगम के कमिश्नर और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय प्रबंधक से भी 4 अगस्त तक जवाब मांगा है।

अधिवक्ता रोहित शर्मा ने बताया कि महेंद्र प्रताप सिंह सोलंकी की ओर से दायर एक याचिका में आरोप लगाए गए है कि बिड़ला कॉरपोरेशन ने शहर के आबादी क्षेत्र में संचालित किए जा रहे सीमेंट प्लांट के लिए आवश्यक पर्यावरणीय मापदंडों का पालन नहीं किया है। इतना ही नहीं आबादी क्षेत्र से लगी खदानें जहां असुरक्षित हैं, वहीं ओपन सीवरेज सिस्टम सीधे खुले नाले में छोड़ा जा रहा है। सड़कें भी कांक्रीट की नहीं हैं। याचिका में आरोप लगाए गए है कि जिला प्रशासन, नगर निगम के कमिश्नर और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी से कई बार लिखित शिकायत करने के बाद भी कोई वैधानिक कार्वाई नहीं की गई है।