दैनिक भास्कर हिंदी: मध्यप्रदेश सरकार की ओर से महाराष्ट्र की एसटी बसों को नो एंट्री, 14 जुलाई से फिर पाबंदी

July 8th, 2021

डिजिटल डेस्क,नागपुर।  मध्यप्रदेश सीमा पार करना एसटी महामंडल के लिए 14 जुलाई तक संभव नहीं है।  मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य की बस व्यवस्था को 14 जुलाई तक बसों का आवागमन बंद का फरमान भेजा है। विदर्भ में डेल्टा वायरस का डर सताने के कारण लगातार महाराष्ट्र से आने-जानेवाली बसों पर पाबंदी लगाई जा रही है, जिसके कारण यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 
कोरोना संक्रमण के पहले तक एसटी महामंडल की प्रति दिन 1 लाख 60 हजार किमी तक बसें चलाई जाती थीं। इन बसों को छत्तीसगढ़, तेलंगाना, मध्यप्रदेश आदि राज्यों की सीमा पार कराया जाता था। लेकिन जब से कोरोना संक्रमण की दस्तक हुई, बसों को सीमा पार करने को लेकर ब्रेक लगा दी गई। खासकर मध्यप्रदेश सरकार ने महाराष्ट्र की बसों पर लंबे समय से पाबंदी लगाकर रखी है। इस साल मार्च महीने से बसों को बंद किया है।  

बार-बार बढ़ाई जा रही तिथि 
एसटी बसों को वर्तमान स्थिति में मध्यप्रदेश के अलावा दूसरे किसी भी राज्य में जाने की पाबंदी नहीं है, लेकिन मध्यप्रदेश में गत तीन बार बसों के प्रवेश की तिथि बढ़ाई गई है। सबसे पहले बसों को जून महीने की 15 तारीख तक प्रवेश दिया जानेवाला था, लेकिन तब यह तिथि 30 जून तक बढ़ाई गई। इसके बाद अब इसे 14 जुलाई तक बढ़ाई गई है। नागपुर में कोरोना संक्रमण बहुत कम होने के बाद भी लगातार बसों की तिथि बढ़ाने से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

हजारों यात्री प्रतिदिन करते हैं आवागमन
सामान्य दिनों में नागपुर से ही एसटी बसों से जाने वाले यात्रियों की संख्या हजारों थी। प्रति दिन पांढुर्णा, छिंदवाड़ा, सौंसर, बालाघाट, सिवनी, लोधीखेड़ा आदि जगह 42 फेरियां चलाई जाती थीं, लेकिन अभी एक भी फेरी नहीं चलने से यात्रियों के सामने भारी परेशानी खड़ी हो गई है। 

14 तक नो इंट्री  
बाकी राज्यों की बसें शुरू हो गई हैं, लेकिन मध्यप्रदेश की ओर से आदेश है कि महाराष्ट्र की बसों को 14 जुलाई तक नहीं भेजें।  
-नीलेश बेलसरे, विभाग नियंत्रक, एसटी महामंडल नागपुर

खबरें और भी हैं...