दैनिक भास्कर हिंदी: अब नागपुर एयरपोर्ट पर रहेगा डॉक्टर के साथ पैरामेडिकल स्टाफ

November 25th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। एनसीआर दिल्ली, राजस्थान, गुजरात व गोवा से आने वाले यात्रियों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी है और जिनके पास टेस्ट रिपोर्ट नहीं है उनकी जांच नागपुर एयरपोर्ट पर की जाएगी। 25 नवंबर से नागपुर एयरपोर्ट पर एक डाॅक्टर, एक पैरामेडिकल स्टाफ के अलावा मनपा की स्वास्थ्य टीम मौजूद रहेगी। आरटीपीसीआर टेस्ट का 1600 रुपए तक शुल्क लिया जाएगा। एयरपोर्ट अथाॅरिटी व मनपा के बीच हुई बैठक में यह निर्णय हुआ है।  

यात्री के पास निगेटिव रिपोर्ट नहीं होने पर होगी जांच
राज्य सरकार ने चार राज्यों से नागपुर सहित महाराष्ट्र में आने वाले यात्रियों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी कर दी है। यात्री को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लेकर चलना होगा। अगर किसी यात्री के पास निगेटिव रिपोर्ट नहीं है, ताे एयरपोर्ट पर उसका आरटीपीसीआर टेस्ट होगा। मनपा के अतिरिक्त आयुक्त संजय निपाने की अगुवाई में मनपा अधिकारियों ने मंगलवार को नागपुर एयरपोर्ट का दौरा कर एयरपोर्ट अथाॅरिटी के साथ बैठक की। एयरपोर्ट अथाॅरिटी की तरफ से एयरपोर्ट के अराइवल में जगह उपलब्ध कराई गई। यहां एक निजी डाक्टर व एक पैरामेडिकल स्टाफ मौजूद रहेगा। इसके अलावा मनपा स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी भी मौजूद रहेंगे। आरटीपीसीआर टेस्ट करने के बाद याात्री को जाने दिया जाएगा। अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो संबंधित व्यक्ति से संपर्क कर मनपा वर्तमान कोरोना गाइडलाइन के मुताबित संबंधित व्यक्ति को क्वारेंटाइन करेगी। अगर लक्षण है, तो कोविड केयर सेंटर भी भेजा जाएगा। जिनकी टेस्ट करनी है, उनका एयरपोर्ट पर  नाम, पता व मोबाइल नंबर दर्ज किया जाएगा। बैठक में इंडिगो एयरलाइंस के प्रतिनिधि व मनपा के अधिकारी मौजूद थे। 

बाहर निकलने के पहले होगा टेस्ट 
एयरपोर्ट पर एक डाॅक्टर व एक पैरामेडिकल स्टाफ रहेगा। इसके अलावा मनपा के स्वास्थ्य कर्मचारी भी मौजूद रहेंगे। जिनके पास कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट नहीं, उनका यहां आरटीपीसीआर टेस्ट होगा। एक टेस्ट का 1600 रुपए तक शुल्क लिया जाएगा। टेस्ट में पाॅजिटिव पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति को मनपा प्रशासन क्वारेंटाइन करेगा। हमारी तरफ से टेस्ट के लिए जगह उपलब्ध कराई गई है। यात्रियों ने आरटीपीसीआर टेस्ट करके विमान में बैठना चाहिए।  - आबिद रुही, वरिष्ठ निदेशक एयरपोर्ट, नागपुर