comScore

अब शिक्षा प्रणाली में ‘आत्मनिर्भर’ थीम, बोर्ड ने शुरू की प्रक्रिया

अब शिक्षा प्रणाली में ‘आत्मनिर्भर’ थीम, बोर्ड ने शुरू की प्रक्रिया

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  कोरोना संक्रमण के कारण विविध क्षेत्रों में कामकाज का तरीका बदल गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया भाषण में लोगों को आत्मनिर्भर बनने पर जोर दिया गया। यही थीम अब हमारी स्कूली शिक्षा प्रणाली पर भी लागू की जा रही है। हाल ही में सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन बोर्ड ने सभी प्राचार्यों को पत्र जारी किया है। मुख्यत: इस पत्र के माध्यम से सीबीएसई ने एनसीआरटी द्वारा तैयार किए गए नए एक्टिविटी कैलेंडर को लागू करने की बात कही है।

पत्र में इस बात का जिक्र किया गया है कि, कोरोना संक्रमण के बाद दुनिया पहले जैसी नहीं हो सकती। ऐसे में हमारी स्कूली शिक्षा प्रणाली भी व्यापक बदलाव की जरूरत है। विद्यार्थियों को अब सिर्फ स्कूल या निर्धारित पाठ्यपुस्तकों पर आश्रित नहीं रहना है, बल्कि ‘डू इट यूअरसेल्फ’ को अपना ध्येय बनाकर पढ़ाई करनी है। पढ़ाई को पारंपारिक पद्धति से बदल कर एक्टिविटी आधारित बनाने की तैयारी जारी है।

यह निर्देश दिए गए
एनसीईआरटी के एक माह के लिए जारी एक्टिविटी कैलेंडर में बाधित हुई पढ़ाई को नए तरीके से करने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित किया जा रहा है। इसमें प्रत्येक सप्ताह के लिए नई एक्टिविटी और प्रोजेक्ट दिए गए हैं। जिसे पूरा करके विद्यार्थियों को शैक्षणिक ज्ञान के अलावा यह समझने में मदद मिलेगी कि, वे पढ़ाई के जरिए कौन सी नई चीज सीख रहे हैं। इसके लिए प्रत्येक चैप्टर से होने वाले फायदे के बारे में विद्यार्थियों को बताया जा रहा है। लर्निंग आउटकम नामक इस उपक्रम में विद्यार्थियों को अच्छे नंबरों से ज्यादा पढ़ाई से मिलने वाले ज्ञान पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।  सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन बोर्ड (सीबीएसई) ने सभी स्कूल प्राचार्यों को पत्र जारी करके इस कैलेंडर को लागू कर दिया है।  
 

कमेंट करें
7LjDi