comScore

अब विदर्भ का संतरा सीधे पहुंचेगा बांग्लादेश

अब विदर्भ का संतरा सीधे पहुंचेगा बांग्लादेश

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  विदर्भ का संतरा अब सीधे बांग्लादेश भेजा जाएगा। इसके लिए नागपुर से विशेष किसान रेल चलाने की तैयारी है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने इस प्रस्ताव पर मध्य रेलवे के डीआरएम सोमेशकुमार, डीसीएम कृष्णा पाटील व अन्य अधिकारियों के साथ चर्चा की। रेलवे  ने प्रस्ताव मंजूर करने की तैयारी दिखाई है। 

समय और खर्च की होगी बचत
विदर्भ से प्रतिवर्ष लगभग ढाई लाख टन संतरा बांग्लादेश निर्यात किया जाता है। रेलवे सुविधा नहीं होने से संतरा सड़क मार्ग से वहां भेजा जाता है। इस परिवहन में करीब 72 घंटे लगते हैं। किसान रेल से 36 घंटे में बांग्लादेश बाजार में यह उपलब्ध हो सकेगा। इस प्रकार समय और खर्च दोनों की ही बचत होगी। 

460 टन की क्षमता
मध्य रेलवे के डीआरएम सोमेशकुमार ने इसके लिए रोडमैप तैयार करने को कहा है। विशेष किसान रेल में सामान्यत: 20 बाेगी व 460 टन माल वाहन की क्षमता रहेगी। नागपुर के अलावा वरुड़, काटोल, नरखेड़ के रेलवे स्टेशन से किसान बांग्लादेश के लिए संतरा भेज सकेंगे। योजना के अनुसार, विशेष वेबसाइट तैयार करके किसानों को बुकिंग की जानकारी दी जाएगी। दिल्ली, मुंबई, बंगलुरु, जयपुर जैसे शहरों के लिए भी विशेष किसान रेल चलाने को कहा गया है। 

कलस्टर को मिली है मंजूरी
इससे पहले गडकरी के निवेदन पर तत्कालीन केंद्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने विदर्भ में संतरा क्लस्टर को मंजूरी दी। इससे विदर्भ के किसानाें को संतरा एकत्र कर विभिन्न बाजारों में बेचने की सुविधा मिली है। महाआरेंज के श्रीधरराव ठाकरे ने कहा है कि किसान रेल चलने से विदर्भ की कृषि व्यवस्था को गति मिलेगी। 

कमेंट करें
HLg4U