comScore

भारत बंद : कटनी में NSUI कार्यकर्ताओं ने रोकी ट्रेन, बंद का रहा मिला-जुला असर

September 10th, 2018 18:52 IST
भारत बंद : कटनी में NSUI कार्यकर्ताओं ने रोकी ट्रेन, बंद का रहा मिला-जुला असर

डिजिटल डेस्क कटनी। पेट्रोल डीजल के लगातार बढ़ते दाम के विरोध में कांग्रेस पार्टी द्वारा 10 सितंबर को भारत बंद आहृान का कटनी में मिला जुला असर रहा। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने कटनी स्टेशन पर रेल रोकी। सोमवार दोपहर इटारसी-सतना पैसेंजर जैसे ही प्लेटफार्म क्रमांक दो से रवाना होने लगी। एनएसयूआई और युवक कांग्रेस कार्यकर्ता पटरी पर लेट गए। कुछ कार्यकर्ता इंजन पर चढ़ गए और उन्होंने रेल रोकी। इस दौरान बड़ी संख्या में आरपीएफ व जीआरपी का बल पहुंचा और ट्रेन रोकने वाले कार्यकर्ताओं को पटरी से उठाकर बाहर किया। पांच मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। इस दौरान एनएसयूआई जिलाध्यक्ष अंशू मिश्रा व अन्य कार्यकर्ताओं के बीच झड़प भी हुई।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस पार्टी द्वारा भारत बंद का आहृान किया गया था। इस सिलसिले में कटनी बंद रहा। सोमवार सुबह से ही कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। जुलूस निकाला। दुकानें बंद रखने की अपील की। बंद का शहर सहित जिलेभर में मिला जुला असर रहा। कटनी शहर में सराफा बाजार पूरी तरह बंद रहा तो कपड़ा बाजार में कुछ दुकानें खुली रही।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भारत बंद के मुद्दे पर शहर में जुलूस निकाला। शहर जिलाध्यक्ष मिथिलेष जैन ने बताया कि पेट्रोल-डीजल की कीमत में जैसे आग लग गई है। पेट्रोल-डीजल की दरें तेजी से बढ़ रहीं हैं उतनी ही तेजी से आम उपभोक्ताओं की जेबें ढीली हो रहीं हैं। पेट्रोल पंप पर जाने से दिल की धडकऩें तेज होने लगी हैं।

कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष गुमान सिंह ने शहर में रैली निकालकर दुकानदारों से दुकानें बंद रखने की अपील की और जिन्होंने दुकानें बंद रखी उनको धन्यवाद भी किया। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार को आमजनों की पीड़ा की परवाह नहीं है।

कांग्रेस के बंद को मिला छिन्दवाड़ा में समर्थन- पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर कांग्रेस के बंद को छिन्दवाड़ा शहर सहित जिले में व्यापक समर्थन मिला। कांग्रेस के आह्वान पर सुबह से ही व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे। जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं व कार्यकर्ताओं की टोलियों ने दोपहिया में सवार होकर बाजारों समेत शहर के मुख्य इलाकों में पेट्रोलिंग कर व्यापारियों से समर्थन मांगा। इस दौरान मानसरोवर कॉम्प्लेक्स बस स्टैंड के सामने पंडाल लगाकर कांग्रेस नेताओं ने सम्बोधित किया और पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में बढ़ोतरी के लिए केंद्र और राज्य सरकार को दोषी बताया।

कमेंट करें
IrB1V