comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस की ओबीसी चेहरे को मिले कमान

महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस की ओबीसी चेहरे को मिले कमान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली । मौजूदा महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोरात को हटाने की अटकलों के बीच इस पद की कमान ओबीसी चेहरे को सौंपे जाने को लेकर दबाव की राजनीति शुरु हो गई है। ओबीसी वर्ग से ताल्लुक रखने वाले प्रदेश के नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर इस आशय की मांग भी उठाई है।     

प्रदेश की महाविकास आघाडी सरकार में शामिल मंत्री विजय वडेट्‌टीवार का कहना है कि पार्टी से छिटका हुआ ओबीसी वर्ग फिर से जुड़ जाता है तो प्रदेश में कांग्रेस की ताकत बढ़ सकती है। इसके तर्क में वह कहते है कि ओबीसी समुदाय जब कांग्रेस के साथ था तब प्रदेश में वह मजबूत था। पार्टी के साथ 38 प्रतिशत से भी अधिक जुडा ओबीसी वोटर 1998 के बाद छिटकता गया और आज सिर्फ 12-14 प्रतिशत ही यह पार्टी के साथ जुड़ा है। लिहाजा प्रदेश में पार्टी की ताकत बढाने के लिए प्रदेश कांग्रेस इकाई की कमान ओबीसी चेहरे को सौंपी जानी चाहिए। यह फैसला पार्टी के हित में होगा।  

वडेट्‌टीवार खुद भी इस पद के लिए इच्छुक है। वे कहते है कि अगर पार्टी अध्यक्ष इस पद की जिम्मेदारी उन्हें सौंपती है तो निश्चित रुप से वे इसे स्वीकार करेंगे। इसके लिए मंत्री पद भी त्यागने के लिए कहा जाए तो वे तैयार है। आगे वे जोर देकर यह भी कहते है कि अगर प्रदेश अध्यक्ष किसी और को बनाया जा रहा है तो इस पद पर ओबीसी को ही नियुक्त किया जाना चाहिए, जो सबको लेकर चलने वाला हो। बहरहाल, राजनीतिक गलियारों में इस पद के लिए विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले के नाम की सबसे ज्यादा चर्चा है। प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने कहा कि जल्द ही इस पद की जिम्मेदारी नए चेहरे को सौंपी जाएगी। उन्होंने अपने आप को इस पद की रेस से बाहर बताया और कहा कि मांग करना भी उनके लिए उचित नहीं है। 

कमेंट करें
jceRX