दैनिक भास्कर हिंदी: शिवसेना का केन्द्र पर निशाना, कहा- तीन तलाक के बाद अब राम मंदिर बनाने भी निकालो अध्यादेश

September 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मोदी सरकार के तीन तलाक अध्यादेश से बहाने शिवसेना ने अपने मित्र दल भाजपा को राममंदिर के मसले पर घेरा है। पार्टी सवाल किया है कि आखिर सत्ताधारी दल अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए अध्यादेश कब लाएगी। पार्टी के मुख पत्र सामने प्रकाशित संपादकीय में कहा गया है कि तीन तलाक को अवैध ठहराने के लिए केंद्र द्वारा लाए गए अध्यादेश की तारीफ करते हुए राम मंदिर का मुद्दा उठाया गया है। पार्टी का कहना है कि तलाकबंदी का श्रेय लेने वालों ने ही हिंदुओं से अयोध्या में राम मंदिर बनाने का वादा किया था, पर इसे आज तक पूरा नहीं किया गया। भगवान राम के मंदिर का बनवास अभी तक जारी है।

इसके पहले गठबंधन राजनीति के चलते राम मंदिर और धारा 370 का वादा पूरा नहीं किया जा सका था। लेकिन अब तो केंद्र और उत्तर प्रदेश में भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार है। मुस्लिम महिलाओं को राहत देने के लिए जिस तरह तीन तलाक के खिलाफ अध्यादेश लाया गया है। उसी तरह हिंदुओं की इच्छा पूरी कर वचनपूर्ति करनी चाहिए। संपादकीय में कहा गया है कि तीन दशकों से राम मंदिर का मुद्दा अटका हुआ है। अदालत जब फैसला देगी, तब देगी। लेकिन हिंदुओं की आस्था को देखते हुए अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए अध्यादेश जारी करो।

खबरें और भी हैं...