दैनिक भास्कर हिंदी: मोबाइल से अनारक्षित टिकट बनाने के लिए क्यूआर कोड

May 7th, 2019

डिजिटल डेस्क,नागपुर। अनारक्षित टिकटों को पेपरलेस करने के उद्देश्य से रेलवे ने इसकी मोबाइल के माध्यम से बिक्री शुरू की है। अब इस एप में एक नई तकनीकी सुविधा यानी क्यूआरकोड ( क्विक रिस्पांस कोड) दी गई है। इसके माध्यम से इतवारी, भंडारा रोड, गोंदिया, डोंगरगढ़, राजनांदगाव तथा छिंदवाड़ा में टिकट बनाए जा सकते हैं। यह क्यूआर कोड स्टीकर के फार्म में बुकिंग, इंक्वायरी एवं स्टेशन परिसर में लगाए गए हैं। अब इसके माध्यम से स्टेशन परिसर में मोबाइल से टिकट बनाया जा सकेगा। यह एप एंड्रायड और आईओएस मोबाइल फोन के लिए भी उपलब्ध है। कुछ माह पहले शुरू उपरोक्त सुविधा का लाभ उठाते हुए केवल अप्रैल में 29 हजार यात्रियों ने टिकट बनाए। इस संबंध में प्रचार और प्रसार नहीं हो पाने से यात्रियों तक इस सुविधा के बारे में जानकारी पहुंच नहीं पाई है। आने वाले दिनों में इस एप का अधिक से अधिक इस्तेमाल होने की उम्मीद रेलवे ने जताई है। 

मनपा का जीएसटी अनुदान 7 करोड़ बढ़ा, सुधरेगी स्थिति

महानगरपालिका को आर्थिक संकट से निकालने के लिए एक गुड न्यूज आई। मनपा का वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को 7 करोड़ बढ़ा दिया है, जिससे साल में 84 करोड़ रुपए का फायदा होगा। उल्लेखनीय है कि जीएसटी लागू होने के बाद मनपा का जीएसटी अनुदान आरंभ होने के बाद मनपा को 42.44  करोड़ रुपए दिया गया था। इसके बाद मनपा पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी, जिसके बाद अगस्त 2017 में जीएसटी का अनुदान बढ़ाकर 60.28 करोड़ रुपए कर दिया गया, लेकिन सितंबर में उसे कम करके 51.36 करोड़ रुपए कर दिया गया था। इसके बाद बीच में फिर जीएसटी का अनुदान बढ़ाया गया और 86.16 करोड़ रुपए हो गया था। हाल ही में 7 करोड़ का अनुदान बढ़ाकर उसे 93.05 कर दिया गया है। इस हिसाब से मनपा को हर साल 84 करोड़ रुपए का फायदा होगा। मनपा को अनुदान बढ़ने से आर्थिक राहत मिलेगी।