comScore

लॉकडाउन में प्लेसमेंट भी टला, स्टूडेंट्स की बढ़ी चिंता

लॉकडाउन में प्लेसमेंट भी टला, स्टूडेंट्स की बढ़ी चिंता

डिजिटल डेस्क, नागपुर । कोरोना संक्रमण के कारण जारी लॉकडाउन के बीच अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की प्लेसमेंट को लेकर चिंता बढ़ गई है। लॉकडाउन के पूर्व कई विद्यार्थियों का प्लेसमेंट बाकी रह गया था, जबकि प्लेसमेंट पा चुके विद्यार्थियों की ज्वाइनिंग भी टल गई है। अब ज्वाइनिंग और प्लेसमेंट कब होंगे, कंपनियों ने कॉलेजों या विद्यार्थियों को इसकी कोई जानकारी नहीं दी है। मौजूदा परिस्थितियों में अगले कुछ माह कोई व्यवस्था होगी या नहीं, इस बात की भी कोई गारंटी नहीं है। ऐसे में अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की चिंता बढ़ी हुई है। 

चयनित विद्यार्थी इंतजार में 
गौरतलब है कि, पिछले ढाई माह से लॉकडाउन जारी है। अमूमन यह समय अंतिम वर्ष की परीक्षा का हुआ करता था। इसके पूर्व इंजीनियरिंग, एमबीए और अन्य प्रोफेशनल कॉलेजों में जनवरी से प्लेसमेंट प्रक्रिया शुरु हो जाती थी। इस वर्ष भी कई नामी कॉलेजों में कैंपस प्लेसमेंट आयोजित हुए और कई विद्यार्थियों का सिलेक्शन भी हुआ। शेष विद्यार्थी प्लेसमेंट के अगले राउंड के इंतजार में थे, लेकिन लॉकडाउन ने सारा शेड्यूल बिगाड़ कर रख दिया। जिनका प्लेसमेंट हुआ, उन्हें भी ज्वाइनिंग नहीं मिली। विद्यार्थी कॉलेजों और कॉलेज कंपनियों से उम्मीद लगाए बैठे हैं।

संभव हो तो घर से ही करें इंटर्नशिप
लॉकडाऊन के कारण विद्यार्थियों का इंटर्नशिप का शेड्यूल भी गड़बड़ा गया है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के बाद अब राज्य सरकार ने भी विद्यार्थियों को घर से ही इंटर्नशिप करने की सलाह दी है। निर्देशों में स्पष्ट कहा है कि, जब तक लॉकडाउन खत्म नहीं होता, विद्यार्थियों को सिर्फ ऑनलाइन इंटर्नशिप और वर्क फ्रॉम होम के जरिए हो सकने वाली इंटर्नशिप करने दें। ऐसे मंे कॉलेज या तो इंटर्नशिप की तारीख आगे बढ़ा दें या फिर इंटर्नशिप की अवधि छोटी करें और असाइनमेंट भी कम कर दें। 

31 मई तक मेट्रो सेवा बंद
लॉकडाउन की समय सीमा फिर से बढ़ाकर 31 मई कर दी गई है। इसके कारण बहुुत से कार्य प्रभावित हुए हैं। हालांकि महामेट्रो को शहर में कार्य शुरू करने की अनुमति मिल गई है। काम गति से चल रहा है। लॉकडाउन की सीमा आगे बढ़ने से एक्वॉलाइन और ऑरेंज लाइन में शुरू मेट्रो सेवा को भी 31 मई तक बंद कर दिया गया है। 

कमेंट करें
uqn68