दैनिक भास्कर हिंदी: वंदे मातरम् उद्यान का खाका जल्द तैयार करने बनी योजना

November 18th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।   नई दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए शहीद स्मारक की तर्ज पर नागपुर में प्रदेश का पहला शहीद स्मारक बनने जा रहा है। एम्प्रेस सिटी परिसर की एक लाख वर्गफीट की जगह पर ‘वंदे मातरम् उद्यान’ का निर्माण किया जाएगा। मनपा स्थायी समिति सभापति पिंटू झलके ने अपने बजट में इस प्रकल्प की घोषणा की थी। फिलहाल इसके लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कन्सलटेंसी (पीएमसी) तैयार की गई है। पीएमसी प्रोजेक्ट का पूरा खाका तैयार कर अपनी रिपोर्ट जल्द सौपेंगी। हालांकि अभी जगह का पेंच बना हुआ है। एम्प्रेस सिटी की जगह राज्य सरकार के अधीन है, जो अभी तक मनपा को हस्तांतरित नहीं हुई है।

मनपा का दावा-समस्या नहीं आएगी
मनपा का दावा है कि इसमें कोई समस्या नहीं आएगी। जिस जगह पर यह स्मारक बनना है, वह पीयू लैंड के लिए आरक्षित है और वहां बगीचा बना हुआ है। इस जगह का कुछ हिस्सा  पहले विदर्भ प्रीमियम बैंक को भी दिया गया है। इसलिए मनपा को जगह मिलने में कोई दिक्कत नहीं होगी। फिलहाल प्रोजेक्ट के लिए बजट में 5 करोड़ रुपए का प्रावधान भी किया गया है। मनपा स्थायी समिति सभापति झलके को उम्मीद है कि मार्च से पहले इस स्मारक का भूमिपूजन होगा। हालांकि मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी. ने अब तक स्थायी समिति के बजट को मंजूरी प्रदान नहीं की है। जिसकी वजह से योजना के क्रियान्वयन में देरी होने की भी संभावना जताई जा रही है। 

शहीदों के कार्यों की मिलेगी जानकारी 
दिल्ली के बाद महाराष्ट्र का यह पहला शहीदों पर आधारित उद्यान होने का दावा किया जा रहा है। फिलहाल इस तरह का स्मारक नागपुर सहित राज्य में कहीं नहीं होने की जानकारी दी गई।  वंदे मातरम् उद्यान में शहीदों के कार्यों की जानकारी दी जाएगी। इसमें थलसेना, वायुसेना, जलसेना, परमवीर चक्र, महावीर चक्र, अशोक चक्र, वीर चक्र प्राप्त सैनिकों की जानकारी दी जाएगी। दीवारों पर उनके म्यूरल तैयार किए जाएगे। उनकी जीवनी पर ऑडियो रिकार्डिंग कर लोगों को सुनाई जाएगी। आजादी से अब तक जो वीर शहीद हुए हैं, उन पर आधे घंटे का कार्यक्रम ‘लाइट एंड साउंड शो’ द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा। अगस्त 2021 से इसे शुरू करने का संकल्प है।