दैनिक भास्कर हिंदी: पीमए बोले: जल मिशन से बदलेंगे मराठवाड़ा की सूरत, सूखा करेंगे खत्म

September 7th, 2019

हाईलाइट

  • महिलाओं को परेशानियों से मुक्त करने प्रधानमंत्री ने व्यक्त किया विश्वास
  • कहा- मुद्रा योजना से बचत गट की प्रत्येक महिला को दिलाएंगे एक लाख का कर्ज

डिजिटल डेस्क, औरंगाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुझे अहसास है कि महिलाओं को पानी के लिए कितनी परेशानियां उठानी पड़ती हैं। इससे मुक्ति के लिए जल मिशन की शुरुआत की गई है। पानी बचाने के लिए, घर-घर में पानी पहुंचाने के लिए संकल्प किया गया है। साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए इस अभियान पर खर्च किए जाएंगे जिसका मराठवाड़ा बड़ा लाभार्थी बनने वाला है। पीएम मोदी शनिवार को शेंद्रा एमआईडीसी स्थित ऑरिक हॉल का उद्घाटन करने पहुंचे थे। इसके बाद पश्चात उन्होंने ग्राम विकास एवं पंचायत राज विभाग की ओर से आयोजित राज्यस्तरीय सक्षम महिला सम्मेलन को संबोधित किया। 

वाटर ग्रिड पर जोर
पीएम ने कहा यहां वाटर ग्रिड पर जोर दिया जा रहा है जिससे इस क्षेत्र में पानी की उपलब्धता बढ़ जाएगी और सूखे से मुक्ति मिलेगी। इसी के साथ प्रधानमंत्री ने मुद्रा योजना से बचत गट की प्रत्येक महिला को एक लाख रुपए का कर्ज दिए जाने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि महिला बचत गट के काम से आर्थिक सशक्तिकरण तो हो ही रहा है, परिवार भी सुधर रहे हैं। नए भारत में महिलाएं कल्याण से राष्ट्र कल्याण के लिए आगे बढ़ रही हैं। 

महिलाओं की अहम भूमिका
मुद्रा योजना की महिलाओं को उद्यमी बनाने में अहम भूमिका निभा रही है। अब उन्हें उद्यम क्षेत्र में और तेज कदम उठाने हैं। इसलिए महिलाओं काे सक्षम बनाने के लिए सरकार के स्तर पर जो भी कदम उठाने होंगे, हम पीछे नहीं हटेंगे। ईमानदारी, साफ नीयत से काम किया जाता है, तो प्रयास फलीभूत हाेते ही हैं। उन्होंने अपील की कि बेटियों के प्रति समाज की सोच में भी हमें व्यापक बदलाव लाना होगा। साथ ही कहा कि तीन तलाक के लिए कड़ा कानून बनाया गया है। अब समाज में कानून को लेकर जागृति लाने की जरूरत है। 

रोजगार का सृजन
उन्होंने कहा जब 2022 में हम आजादी का 75वां पर्व मनाएंगे तो हर गरीब को पक्की छत होगी। इस दिशा में हम तेज गति से बढ़ रहे हैं। आने वाले पांच वर्ष के लिए कुछ संकल्प भी उन्होंने यहां सामने रखे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि औरंगाबाद में कई बड़ी कंपनियां आ रही हैं, उन्होंने कार्य भी शुरू कर दिया है। इससे युवकों के लिए रोजगार का सृजन होगा, और इस सिद्धि का पूरा श्रेय औरंगाबाद को ही जाता है। मुझे विश्वास है कि औरंगाबाद देश की बड़ी गतिविधियों का वृहद केंद्र बनेगा। औरंगाबाद अब नया स्मार्ट सिटी बन रहा है। 

आठ करोड़वां गैस कनेक्शन वितरित
कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुलताना बरड़े (औरंगाबाद), मंदा वाभले (औरंगाबाद), नरगिस बेगम (जम्मू कश्मीर), रेखा देवी (झारखंड) को प्रतिनिधि स्वरूप उज्ज्वला गैस कनेक्शन वितरित किए। मोदी ने मंदा वाभले से कुछ बातचीत भी की आैर उनका हौसला बढ़ाया। इस दौरान समय से लगभग सात महीने पहले पूरी हो रही गरीब परिवारों के लिए शुरू की गई उज्ज्वला योजना के तहत आठ करोड़वां नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन इंदिरा नगर, अजंता गांव, तहसील सोयगांव, जिला औरंगाबाद की आयशा शेख रफीक को उन्होंने अपने हाथों से सौंपकर योजना की सफलता के लिए पूरे देश का आभार व्यक्त किया।