निर्वाचित भाजपा सदस्य ने दिया इस्तीफा: चांदुर रेलवे के पंस चुनाव के बाद बदल रहे राजनीतिक समीकरण 

November 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, चांदुर रेलवे (अमरावती)। स्थानीय सातेफल पंचायत समिति सर्कल से निर्वाचित भाजपा सदस्य श्रद्धा वर्हाडे ने पार्टी पर उनके साथ विश्वासघात करने का आरोप लगाते हुए अपना इस्तीफा दे दिया। उनके मुताबिक पार्टी के पास सभापति पद के लिए बहुमत रहने के बाद भी कांग्रेस के सदस्य को पार्टी में लेकर निर्विरोध सभापति बनाया गया। इस घटनाक्रम की जानकारी पार्टी के वरिष्ठ अथवा स्थानीय पदाधिकारियों द्वारा उन्हें नहीं दी गई। इससे वे आहत है। पंचायत समिति में भाजपा के चार सदस्य और कांग्रेस के दो सदस्य रहने के बावजूद ऐसा क्यों किया गया? यह उनकी समझ से बाहर है।  पूर्व में भाजपा की संगीता देशमुख को सभापति बनाते हुए ढाई साल बाद उन्हें सभापति बनाने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन ढाई साल बाद हुए सभापति चुनाव में कांग्रेसी सदस्य को पार्टी में लेकर सदस्य बनाना उन्हें खल गया। सभापति का फार्म भरते समय भी पार्टी द्वारा उन्हें भ्रमित किए जाने का आरोप लगाया। इस षड्यंत्र में अर्चना रिठे की महत्वपूर्ण भूमिका रहने तथा इसी से व्यथित होकर इस्तीफा देने की बात कही।  

पार्टी के रवैयेे ने किया व्यथित : जिस पार्टी की मजबूती के लिए मेरे पिता ने 40-45 साल तक कार्य किया। उस पार्टी की पंचायत समिति सदस्य रहने के बाद भी पार्टी वरिष्ठों द्वारा पार्टी बहुमत में रहने के बाद भी कांग्रेसी सदस्य को सभापति बनाने की चाल चली गई और इसी कारण सदस्यता से इस्तीफा देने की बात श्रद्धा वर्हाडे ने कही। पार्टी द्वारा अंतिम समय तक भ्रमित करने की जानकारी देते हुए श्रद्धा वर्हाडे ने बताया कि पार्टी के रवैये से व्यथित होकर वे इस्तीफा दे रही है।