comScore

 नागपुर के कोविड वार्ड में रोज होती है प्रार्थना

 नागपुर के कोविड वार्ड में रोज होती है प्रार्थना

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। हर रोज नए मामले सामने आ रहे हैं। मेडिकल के कोविड वार्ड में संक्रमित मरीजों के मन से कोरोना का डर दूर करने और व्यवहार को सकारात्मक रखने के लिए रोज प्रार्थना कराई जा रही है। मरीज प्रतिदिन "इतनी शक्ति हमें देना दाता' प्रार्थना करते हैं। इससे तन-मन दोनों ही स्वस्थ होते हैं। प्रार्थना में हर आयु वर्ग के मरीज शामिल होते हैं। प्रार्थना सुबह-शाम कराई जाती है। प्रार्थना से मरीजों के दिन की शुरुआत होती है। 

मरीज जल्दी ठीक होना उद्देश्य
मेडिकल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अविनाश गावंडे ने बताया कि कोविड वार्ड में प्रार्थना कराने का उद्देश्य मरीजों की सोच और व्यवहार पॉजिटिव रखना है।  वार्ड में कई मरीज असिम्टोमैटिक हैं। वार्ड में मरीजों के परिजन नहीं होने से कहीं न कहीं उन्हें उनकी कमी महसूस होती है। इसलिए मरीजों की दिनचर्या तय कर दी गई है, जिसमें मरीजों को टाइमटेबल दिया गया है। सुबह एक्सरसाइज के साथ रात को सोने का रूटीन तय किया गया है। सुबह उठने के बाद प्रार्थना की जाती है। इससे उनमें सकरात्मकता बढ़ती है। वे दिनभर फ्रेश महूसस करते हैं। रात को भी प्रार्थना होने से रातभर नींद अच्छी होती है। प्रार्थना कराने की संकल्पना नर्सिंग सुपरिंटेंडेंट मालती डोंगरे की है। 

कमेंट करें
df5gv