दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर के सेंट्रल जेल में कैदी की मौत

August 25th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। स्थानीय सेंट्रल जेल में सजा भुगत रहे एक कैदी की सोमवार को बीमारी से मौत हो गई है। वह हत्या का आरोपी था। धंतोली थाने में आकस्मिक मृत्यु का प्रकरण दर्ज किया गया है। 43 वर्षीय कैदी मनोज मांगरा नोनिया फरीदाबाद (झारखंड) का निवासी था और नागपुर की जेल में सजा भुगत रहा था। वर्ष 2017 में उसने रत्नागिरी में किसी की हत्या की थी। इसके आरोप में उसे उम्रकैद की सजा मिली थी। उसे रत्नागिरी की जेल से नागपुर की सेंट्रल जेल में भेजा गया था। 17 अगस्त को मनोज की तबीयत खराब हो गई। जेल प्रशासन ने उसे मेडिकल अस्पताल में भर्ती किया था, जहां पर उसकी मौत हो गई। जांच जारी है। 

सिपाही ने लगाई फांसी
 चंदन नगर स्थित महेश कॉलोनी में पंखे से दुपट्टा बांधकर सिपाही सुनील भोयर (53) ने फांसी लगा ली।  पारिवारिक सूत्रों की मानें तो 14 अगस्त को गरम पानी की बाल्टी गिरने से सुनील का पेट बुरी तरह झुलस गया था। वह मुख्यालय में तैनात थे। उपनिरीक्षक सूर्यवंशी ने बतााया कि वह ड्यूटी भी नहीं आ रहे थे। घटना के दौरान घर में सुनील की पत्नी सुषमा, पुत्र सुमित और सुनील के पिता शेषराव थे। उधर, कलमना थानांतर्गत रानी सती ले-आउट निवासी सागर हरीशचंद्र डेहुनिया (25) ने  सीलिंग फैन में दुपट्टा बांधकर फांसी लगा ली। इससे पहले भी वह आत्महत्या का प्रयास कर चुका था।