दैनिक भास्कर हिंदी: एसटी बसों के यात्रियों में सेंध लगा रहे निजी बस चालक

October 18th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  लॉकडाउन के बाद जैसे-तैसे एसटी महामंडल की बसें शुरू हुईं। अभी यात्री कम मिलने से महामंडल को घाटा हो रहा है। इससे महामंडल अभी उबर भी नहीं पा रहा है कि निजी बस चालक यात्रियों को बहला-फुसला कर निजी बसों में खींच ले जा रहे हैं। इसके बावजूद प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। सूत्रों की मानें तो कुछ अधिकारियों की सांठ-गांठ से ही यह सब हो रहा है। 

गणेशपेठ बस स्टैंड नागपुर का प्रमुख स्टैंड है। यहां से सबसे ज्यादा यात्रियों का और बसों का आवागमन होता है। कोरोना लॉकडाउन के बाद से अभी सिर्फ 50 प्रतिशत बसें ही शुरू हो पाई हैंं। इसमें भी यात्रियों की संख्या काफी कम है। इससे बसों को चलाने का भी पैसा प्रशासन नहीं निकाल पा रहा है। दूसरी तरफ जो यात्री बस स्टैंड पहुंच रहे हैं, उनमें से काफी लोगों को निजी बस वाले कम किराया आदि तरह-तरह का प्रलोभन देकर अपनी बसों की ओर खींच रहे हैं। जिससे एसटी बसों को सवारियां कम मिल रही हैं। इससे महामंडल के राजस्व पर असर पड़ रहा है। मामले सामने आए हैं। 

बस स्टैंड में निजी बस चालकों द्वारा आकर यात्रियों को लेकर जाने के कुछ मामले सामने आए हैं। भीड़ में उन्हें पहचानना मुश्किल है। इसके बावजूद हमारे ट्रैफिक कंट्रोलर को इन पर कार्रवाई कर एफआईआर दर्ज करने की सूचना दी गई है। 
निलेश बेलसरे, विभाग नियंत्रक, एसटी महामंडल, नागपुर