दैनिक भास्कर हिंदी: लव मैरिज को लेकर बवाल, ससुराल से दुल्हन को उठा ले जाने का आरोप

March 26th, 2019

डिजिटल डेस्क,जबलपुर।  सदर मोदीबाड़ा में रहने वाले सचिन कनौजिया (बदला हुआ नाम) और विजय नगर निवासी मोहिनी कश्यप (बदला हुआ नाम) ने सोमवार को लव मैरिज कर ली। कोर्ट से शादी करके सचिन और मोहिनी एसपी ऑफिस पहुँचे और अपने बालिग होने के साथ शादी का सर्टिफिकेट अधिकारियों को दिखाया। मोहिनी सचिन के साथ मोदीबाड़ा स्थित ससुराल पहुँची। जहाँ देर शाम नवदम्पति के आगमन पर परिजन शादी की रस्मों की औपचारिकताएँ कर रहे थे, लेकिन शाम करीब 6 बजे मोहिनी  के कुछ रिश्तेदार कार से पहुँचे और सचिन व उसके रिश्तेदारों के साथ मारपीट करते हुए मोहिनी को कार में जबरन अपने साथ बिठाकर ले गए। जिसके बाद सचिन और उसके परिजन केंट थाने पहुँचे और अपहरण के आरोप लगाए।

हाई प्रोफाइल है मामला
सूत्रों के अनुसार मोहिनी का परिवार मूलत: नरसिंहपुर जिले का रहने वाला है, जिनकी रिश्तेदारी नरसिंहपुर के एक कद्दावर भाजपा नेता से है। मोहिनी  के पिता वेटरनरी विवि में सीनियर डॉक्टर हैं, इसके अलावा उनके मामा एक बड़े प्रशासनिक अधिकारी हैं। लिहाजा पुलिस पर भारी दबाव बनाया गया। मोहिनी के रिश्तेदारों ने पहले तो उसे साथ ले जाने से साफ इनकार किया, लेकिन बाद में उसे जल्द थाने में पेश करने की बात कही। देर रात तक थाने में सचिन का परिवार मोहिनी के लौटने का इंतजार करता रहा। इस संबंध में केंट टीआई विजय तिवारी का कहना है कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।
सिविक सेंटर गोलीकांड - आरोपी को  फाइनेंस करने वाला जिम मालिक गिरफ्तार
एशियाज जिम के मालिक अमित भसीन पर जानलेवा हमले के मामले में पुलिस ने गढ़ाफाटक स्थित यूनिक जिम के मालिक सीटू उर्फ स्वप्निल श्रीवास्तव को गिरफ्तार किया है। दरअसल मुख्य आरोपी गोलू उर्फ अब्दुल खालिक सीटू की जिम में काम करता था, सीटू पर भी 24 लाख का लोन था, जिसे चुकाने के लिए वह गोलू के प्लान में शामिल हो गया। सीटू ने गोलू को मोबाइल खरीदने और अन्य चीजों के लिए पैसा दिया था। इसके अलावा प्लान के तहत जी-2 मोबाइल पर रहकर उसने अमित भसीन की रैकी करके गोलू और उसके साथियों को दी थी। सीटू उर्फ स्वप्निल फूटाताल क्षेत्र का रहने वाला है, जिस पर पुलिस को पहले से ही शक था, लेकिन सबूत न होने के कारण सीटू अब तक बचता रहा। ओमती थाना प्रभारी नीरज वर्मा के अनुसार सीटू उर्फ स्वप्निल को जब हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने गोलमोल जवाब दिए, उसके पुराने सभी नंबरों की लोकेशन भी जिम या घर पर मिली, लेकिन एक सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में सीटू घटना के दिन एशियाज जिम के आसपास घूमता हुआ दिखा, जिसके कारण उसकी पोल खुल गई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

खबरें और भी हैं...