पंजाब : पंजाब के शेरा हत्याकांड का शूटर रोहित किच्छा से गिरफ्तार, 25 लाख में ली थी सुपारी

July 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, देहरादून। उत्तराखंड एसटीएफ को बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ ने पंजाब के तरनतारन से शेरा हत्याकांड के कॉन्ट्रैक्ट किलर को गिरफ्तार कर लिया है। एसटीएफ ने आरोपी के पास से हत्याकांड में प्रयोग हथियार भी बरामद कर लिया है। बताया जा रहा है कि 25 लाख रुपए में हत्या की सुपारी ली गई थी। रोहित को उधमसिंह नगर जिले के किच्छा से गिरफ्तार किया गया है।

5 जुलाई 2022 को पंजाब प्रांत के तरनतारन जिले के अंतर्गत बल्हूआ थाना क्षेत्र में कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के तहत दिनदहाड़े शेरा नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मुख्य शूटर रोहित को उत्तराखंड एसटीएफ ने उधम सिंह नगर के किच्छा से हथियार सहित गिरफ्तार किया है। हालांकि अभी इस हत्याकांड में दूसरा शूटर फरार चल रहा है। उसकी तलाश जारी है। गिरफ्तार किया गया शूटर रोहित पुत्र राजाराम उधमसिंह नगर के किच्छा क्षेत्र का ही मूल निवासी है।

किच्छा के रहने वाले हैं दोनों शूटर 

बीते 5 जुलाई 2022 को पंजाब प्रांत के तरनतारन जिले के अंतर्गत बल्लूआ थाना क्षेत्र में कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के तहत दिन दहाड़े शेरा नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मुख्य शूटर रोहित को उत्तराखंड एसटीएफ ने उधम सिंह नगर के किच्छा से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के पास से हथियार भी बरामद कर लिया है। हालांकि अभी इस हत्याकांड में शामिल दूसरा शूटर फरार चल रहा है। जिसकी तलाश जारी है। गिरफ्तार किया गया शूटर रोहित पुत्र राजाराम उधमसिंह नगर के किच्छा क्षेत्र का ही मूल निवासी है।

लगातार बदल रहे थे ठिकाना: एसटीएफ के मुताबिक

पंजाब के तरनतारन जिले में कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के तहत शेरा नाम के व्यक्ति की हत्या के लिए उधमसिंह नगर से ही 2 शूटर हायर किए गए थे। घटना को अंजाम देने के बाद दोनों शूटर उधम सिंह नगर में ठिकाना बदल-बदल कर छिपे हुए थे। देर रात सूचना मिली कि मुख्य शूटर रोहित जिसने शेरा को नजदीक से गोली मारी थी, वह अपने निवास स्थान किच्छा गुरुद्वारा साहिब इलाके में छिपा है। सटीक सूचना के आधार पर देर रात एसटीएफ टीम द्वारा इलाके में घेराबंदी कर दबिश देकर रोहित को हथियार सहित गिरफ्तार किया गया है। अभी उसका दूसरा साथी फरार चल रहा है जिसकी तलाश लगातार जारी है।

25 लाख में दी गई थी हत्या की सुपारी

उत्तराखंड एसटीएफ के मुताबिक अभी तक की जांच पड़ताल में जानकारी सामने आई कि पंजाब में स्थानीय निवासी ने हत्याकांड को अंजाम देने के लिए 25 लाख की सुपारी दी थी। इस घटना को अंजाम देने के लिए उत्तराखंड के उधम सिंह नगर किच्छा से दो शूटर्स को हायर किया गया था। किच्छा निवासी शूटर रोहित ने कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के तहत शेरा को पहले नजदीक जाकर गोली मारी थी। जबकि उसके पीछे दूसरे शूटर ने एक के बाद एक गोलियां चला कर शेरा को मौके पर ही ढेर कर दिया था। इस घटना के बाद से दोनों शूटर उत्तराखंड उधम सिंह नगर इलाके गृह क्षेत्र में अलग-अलग ठिकाने बदल कर छिप रहे थे।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.