दैनिक भास्कर हिंदी: कांग्रेस विधायक नसीम ने पूछा- क्या नागपुर के इशारे पर नहीं मिल रहा मुस्लिम आरक्षण?

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुस्लिम आरक्षण के लिए पुणे में मुक मोर्चा निकालने के बाद मुस्लिम समाज के प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को मंत्रालय में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की। राज्य के पूर्व अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री व कांग्रेस विधायक नसीम खान के नेतृत्व में गए प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से मांग की कि मराठा आरक्षण की तरह मुस्लिम समाज को भी 5 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया जाए।

मुस्लिम आरक्षण के लिए सीएम से मिला प्रतिनिधिमंडल
मंत्रालय स्थित पत्रकार कक्ष में पत्रकारों से बातचीत में नसीम खान ने कहा कि आघाडी सरकार ने मराठा समाज के साथ-साथ मुस्लिम समाज की पिछड़ी जातियों को 5 फीसदी आरक्षण देने का प्रावधान किया था। बांबे हाईकोर्ट ने भी शिक्षा के क्षेत्र में मुस्लिम आरक्षण को सही माना था। लेकिन मौजूदा फणवीस सरकार ने मराठा आरक्षण के लिए विधेयक पेश किया लेकिन मुस्लिम आरक्षण के लिए लाए गए अध्यादेश को विधेयक में तब्दिल नहीं किया। खान ने कहा कि रंगनाथ मिश्र व सच्चर कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में साफ किया है कि मुस्लिम समाज काफी पिछड़ा है। उसे सरकार के सहयोग की जरूरत है। लेकिन यह सरकार मुस्लिम समाज की मांग मानने को तैयार नहीं है। अल्पसंख्यकों को लेकर शुरु सारी योजनाएं फिलहाल ठप हैं।

कांग्रेस विधायक नसीम का सवाल
उन्होंने सवाल किया कि क्या नागपुर के इशारे पर मुस्लिम समाज को आरक्षण नहीं दिया जा रहा है। उनका इशारा राष्ट्रीय स्वमसेवक संघ (आरएसएस) की तरफ था। नागपुर आरएसएस का मुख्यालय है। कांग्रेस विधायक ने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक बार फिर हमें हमारी मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास का नारा देने वाली सरकार के राज में मुस्लिम समाज के साथ अन्याय हो रहा है। तीन तलाक अध्यादेश की तरह सरकार मुस्लिम समाज को आरक्षण देने के लिए भी तुरंत अध्यादेश लाए। 
 

खबरें और भी हैं...