comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मोदी सरकार मुट्ठी भर उद्योगपतियों के लिए किसानों को दबा रही है, किसान जो कर रहे हैं मुझे उस पर गर्व हैः राहुल गांधी 


डिजिटल डेस्क ( भोपाल)। तमिलनाडु में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मदुरै में वहां के स्थानीय लोगों के साथ पोंगल त्योहार मनाया और खाना खाया। पोंगल के अवसर पर, दो प्रमुख राष्ट्रीय नेता- भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और राहुल गांधी राज्य के दौरे पर हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हालांकि इस मौके पर तमिल भाषा और संस्कृति पर कथित हमले को लेकर भाजपा को निशाने पर लिया। राहुल ने जल्लीकट्ट देखने के बाद भाजपा पर हमला बोला और राज्य में कांग्रेस की तरफ से विधानसभा चुनाव के लिए ताल ठोक दी। राहुल आज ही विदेश से लौटे और सीधे तमिलनाडु पहुंच गए। राहुल ने कहा, तमिल संस्कृति और इतिहास को एक्शन में देखना एक सुखद अनुभव है। मुझे लगता है कि तमिल संस्कृति, तमिल भाषा, तमिल इतिहास भारत के भविष्य के लिए आवश्यक है और भारत में हर किसी को इसका सम्मान करने की आवश्यकता है। 


राहुल गांधी ने इस मौके पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि किसान जो कर रहे हैं मुझे उस पर गर्व है और मैं उनका पूरा समर्थन करता हूं। सरकार को ये कानून वापस लेने पड़ेंगे, मैंने जो कहा उसे याद रखना। उन्होंने कहा कि आप किसानों को दबा रहे हो, मुट्ठी भर उद्योगपतियों की मदद कर रहे हो, जब कोरोना आता है तब आप आम आदमी की मदद नहीं करते। आप किसके प्रधानमंत्री हैं, भारत के लोगों के या दो-तीन बिजनेसमैन के? चीन हमारे क्षेत्र में क्या कर रहा है।  

उन्होंने आगे कहा कि सरकार सिर्फ किसानों को नजरअंदाज ही नहीं कर रही बल्कि वो उन्हें बर्बाद करने की साजिश भी कर रही है क्योंकि वो अपने दो-तीन दोस्तों को लाभ पहुंचाना चाहते हैं। वो किसानों की जमीन, उनकी उपज लेकर उसे अपने दो-तीन दोस्तों को देना चाहते हैं। 

राहुल ने बिना किसी का नाम लिए भाजपा पर हमला किया, मैं यहां उन लोगों को संदेश देने के लिए आया हूं, जो सोचते हैं कि वे तमिल लोगों की भाषा और संस्कृति के साथ कुछ भी कर सकते हैं।

कांग्रेस नेता के साथ द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन के बेटे भी थे। तमिलनाडु में इस साल विधानसभा चुनाव होंगे, जिसमें सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और विपक्षी द्रमुक मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं, कांग्रेस द्रमुक के साथ सत्ता में वापसी करने के लिए जोर लगा रही है। दूसरी ओर, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा पोंगल का जश्न मनाने के लिए राज्य में हैं, लेकिन जिस तरह से राहुल गांधी ने इस अवसर को भाजपा पर हमला करने के लिए चुना, वह एक अच्छी तरह से सोची समझी रणनीति का हिस्सा है। क्योंकि राज्य में विपक्ष नई शिक्षा नीति का विरोध कर रहा है और इसे राज्य की संस्कृति में एक उल्लंघन करार दे रहा है।

कमेंट करें
fSrK8