दैनिक भास्कर हिंदी: बाढ़ प्रभावितों के लिए मुंबई और नागपुर डिवीजन ने भी बढ़ाए मदद के हाथ, बारिश से घंटों लेट ट्रेनें

August 21st, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मध्य रेलवे के 90 हजार अधिकारी व कर्मचारी भी केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए अपने वेतन से अंशदान करेंगे। मदद के तौर पर दी जाने वाली रकम मुख्यमंत्री राहत आपदा कोष में जमा कराई जाएगी। दान की गई रकम कितनी होगी इसका खुलासा 31 अगस्त को होगा। मध्य रेलवे के प्रवक्ता एके सिंह ने बताया कि मध्य रेलवे के कर्मचारियों और अधिकारियों ने केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए ऐच्छिक अंशदान का फैसला किया है। अपनी इच्छा के अनुरूप लोग रकम दान करेंगे जिसे मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में जमा करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि रेल मंत्री पियूष गोयल पहले ही केरल के लोगों को हर संभव मदद देने का ऐलान कर चुके हैं। इसी के तरह रेलवे राज्य सरकार की एजेंसियों, पीएसयू और अन्य सरकारी एजेंसियों की राहत सामग्री निशुल्क केरल पहुंचा रही है। मध्य रेलवे अब तक पेयजल के 14 वैगन और 27 हजार किलो राहत सामग्री केरल भेज चुकी है।

नागपुर से भी दी जाएगी मदद
इधर उपराजधानी नागपुर में डीआरएम सोमेश कुमार ने बताया कि जो लोग बाढ़ पीड़ितों को मदद पहुंचाना चाहते हैं, उन्हें रेलवे फ्री सेवा उपलब्ध कराएगी। मध्य रेलवे नागपुर मंडल के चंद्रपुर, बल्लारशाह, वर्धा, सेवाग्राम, पुलगांव, धामनगांव, बैतुल, आमला, पांढुर्णा, परासिया के एनजीओ या स्वंय सेवी संस्थाएं राहत और खाद्य सामग्री निशुल्क भेज सकते हैं। इच्छुक नजदीकी रेल्वे पार्सल कार्यालय से संपर्क कर, सेवा का लाभ उठा सकते हैं।

बारिश के कारण गाड़ियां लेट
बारिश के कारण नागपुर आनेवाली गाड़ियों गाड़ियां देरी से पहुंचने का सिलसिला खत्म नहीं हो रहा है। मंगलवार को आधा दर्जन गाड़ियां घंटों लेट रहीं है। जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लेट होनेवाली गाड़ियों में ट्रेन नंबर 22648 तिरूअनंतपुरम कोरबा एक्सप्रेस 4 घंटे, 12592 यशवंतपुर-गोरखपुर एक्सप्रेस 2 घंटे 30 मिनट, 12106 गोंदिया-मुंबई विदर्भ एक्सप्रेस 2 घंटे 30 मिनट, 12722 ह. निजामुद्दीन-हैद्राबाद दक्षिण एक्सप्रेस 2 घंटे 30 मिनट, 12670 छपरा-चैन्नई गंगाकारवेरी एक्सप्रेस 3 घंटे, 12625 तिरूअनंतपुरम-नई दिल्ली केरला एक्सप्रेस 3 घंटे देरी से पहुंची।

खबरें और भी हैं...