दैनिक भास्कर हिंदी: राजस्थान: कांग्रेस के पास बहुमत, आज होगा मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान

December 12th, 2018

हाईलाइट

  • कांग्रेस गठबंधन ने 100 सीटों पर दर्ज की है जीत
  • अशोक गहलोत और सचिन पायलट में से कोई एक होगा सीएम
  • राजस्थान कांग्रेस के नेता बुधवार शाम राज्यपाल से भी मिल सकते हैं

डिजिटल डेस्क, जयपुर। राजस्थान में एक बार फिर सत्ता परिवर्तन हुआ है। यहां कांग्रेस गठबंधन ने 100 सीटों पर जीत दर्ज की है, लेकिन एक सवाल अब भी लोगों के जहन में उठ रहा है कि राजस्थान का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा। चुनाव प्रचार के समय से ही मुख्यमंत्री के तौर पर अशोक गहलोत और सचिन पायलट का नाम आगे किया जा रहा है। मंगलवार को मतगणना के समय भी दोनों के समर्थकों ने अपने नेताओं के पक्ष में नारेबाजी की थी। बहुजन समाज पार्टी ने भी कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया है। मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि हम राजस्थान में कांग्रेस को समर्थन देंगे।

इस मसले पर विचार-विमर्श करने के लिए बुधवार सुबह 11 बजे जयपुर स्थित कांग्रेस कार्यालय में विधायक दल की बैठक रखी गई है, जिसका नेतृत्व पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल करेंगे, हालांकि मुख्यमंत्री के नाम का चयन कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ही करेंगे। राजस्थान कांग्रेस के नेता बुधवार शाम राज्यपाल से भी मिल सकते हैं।

बता दें कि कांग्रेस पार्टी के समर्थक इस वक्त जश्न में डूबे हुए हैं। हार के बाद वसुंधरा राजे ने राज्यपाल को इस्तीफा दे दिया है। राजस्थान में 199 सीटों पर चुनाव हुए थे, जिसमें से 100 सीटें कांग्रेस गठबंधन और 73 भाजपा को मिली हैं। 26 सीटें अन्य के खाते में गई हैं। चुनावी विश्लेषकों के मुताबिक राजस्थान की जनता वसुंधरा के काम से काफी नाराज चल रही थी।

प्रदेश में कांग्रेस ने 99, बीजेपी ने 73, बसपा ने 6, सीपीआई ने 2 और अन्य ने 19 सीटों पर जीत दर्ज कर ली है। राज्य में सरकार बनाने के लिए 199 में से 100 सीटें चाहिए। 

बता दें कि अलवर जिले के रामगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह का निधन हो गया था। इस कारण चुनाव आयोग ने इस सीट पर चुनाव निरस्त कर दिया। यही कारण है कि इस बार कुल 200 में से 199 सीटों के लिए ही मतदान हुआ था।

राजस्थान में शानदार जीत के साथ कांग्रेस का राजतिलक लगभग तय हो गया है। मगर पार्टी के लिए यहां सीएम के चेहरे को लेकर बड़ा सिरदर्द बना हुआ है। कांग्रेस के पूर्व सीएम अशोक गहलोत और पूर्व सांसद सचिन पायलट को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। कांग्रेस के अगले सीएम उम्मीदवार के सवाल पर अशोक गहलोत ने कहा है कि विधायक दल की बैठक के बाद ही सबकुछ तय किया जाएगा। वहीं सचिन पायलट ने कहा है कि किसे क्या पद मिलेगा, इसका निर्णय कांग्रेस आलाकमान और राहुल गांधी को करना है।

वसुंधरा, अशोक और सचिन का हाल...

  • अशोक गहलोत अपनी परंपरागत सीट सरदारपुरा से मैदान में थे। यहां से उन्होंने बीजेपी के शंभु सिंह को 45,597 वोटों से शिकस्त दी है।
  • वहीं बीजेपी सीएम वसुंधरा राजे ने भी झालरापाटन से जीत दर्ज की है। वसुंधरा ने कांग्रेस के मानवेंद्र सिंह को 34,980 वोटों से हराया है।
  • तीसरी हाईप्रोफाइल सीट टोंक रही है। इस सीट से राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट मैदान में थे। उनके खिलाफ बीजेपी ने युनुस खान को उतारा था। मगर सचिन पायलट ने युनुस को इस मुकाबले में 54,179 वोटों से पटखनी दी है।

तीसरी बार सीएम बन सकते हैं गहलोत
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत राजस्थान के दो बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं। यही कारण है कि उनके समर्थक उन्हें तीसरी बार भी सीएम के रूप में देखना चाहते हैं। मगर अशोक गहलोत इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते हैं। मीडिया के सामने गहलोत इस बात को कई बार कह चुके हैं कि अगर पार्टी उन्हें केंद्र की जिम्मेदारी देगी, तो वे केंद्र में रहेंगे और अगर राज्य की जिम्मेदारी देगी तो वह यहां भी जिम्मेदारी निभाने के लिए तैयार हैं।

सीएम के लिए सचिन पायलट हैं पहली पसंद
राजस्थान में शुरुआत से ही कांग्रेस की ओर से सीएम के रूप में सचिन पायलट को देखा जा रहा है। इसका एक बड़ा कारण ये नहीं है कि वो राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष हैं, बल्कि वह युवा चेहरा भी हैं। अब बहुमत का आंकड़ा पार करने के बाद ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस आला कमान सचिन पायलट को सीएम के रूप में ला सकती है। इसकी वजह यह भी है कि अशोक गहलोत राजस्थान के दो बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इसलिए ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि सचिन पायलट कांग्रेस आलाकमान के लिए भी पहली पसंद हो सकते हैं।