दैनिक भास्कर हिंदी: रावण दहन कर सीएम फडणवीस बोले- जीवन की बुराइयों का दहन करें

October 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बुराई पर अच्छाई और पाप पर पुण्य की विजय के पर्व विजयादशमी पर किसी व्यक्ति का नहीं, बल्कि अपने जीवन की बुराइयों का दहन करना चाहिए। कस्तूरचंद पार्क का दशहरा महोत्सव इतिहास का एक सुनहरा पन्ना है। उन्होंने कहा कि प्रभु श्रीराम सभी को सद्मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करें।  विजयादशमी पर सनातन धर्म युवक सभा की ओर से कस्तूरचंद पार्क में आयोजित रावण दहन कार्यक्रम में वे बतौर मुख्य अतिथि के रूप बोल रहे थे। 

दशहरा नए युग की शुरुआत : गडकरी
केंद्रीय भूतल परिवहनमंत्री नितीन गडकरी ने कहा कि विजयादशमी पर समाज की बुरी प्रवृत्ति का दहन किया जाता है। दशहरा नए युग की शुरुआत है। उन्होंने नए युग में सभी के जीवन में सुख-समृद्धि की कामना प्रभु श्रीरामचंद्रजी से की। इस अवसर पर विशेष अतिथि पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले थे। विधायक कृष्णा खोपड़े, सुधाकरराव देशमुख, डा. मिलिंद माने, पार्षद दयाशंकर तिवारी, सुनील अग्रवाल बतौर अतिथि उपस्थित थे।

जब जमीन से 30 फीट ऊंचे उड़े हनुमान
कस्तूरचंद पार्क में आकाश मार्ग से संजीवनी पर्वत लेकर जमीन से 30 फीट ऊंचे उड़ते हनुमानजी का नजारा देखकर लोगों ने दांतों तले उंगली दबा ली।  रामायण के प्रसंगों पर आधारित रोमांचकारी नाटिका का मंचन कस्तूरचंद पार्क की बारादरी के पास किया गया। नाटिका का विशेष आकर्षण था आकाश मार्ग से संजीवनी पर्वत लेकर उड़ते हनुमानजी। जमीन से हवा में 30 फीट ऊपर हनुमानजी द्रोणगिरि पर्वत लेकर उड़ रहे थे। मुबंई के कलाकारों ने विशेष तकनीक के माध्यम से इसे साकार किया।

रावण ने दिया राक्षसी प्रवृत्तियों से छोटी बच्चियों को बचाने का संदेश
दशहरा महोत्सव में बुराई के प्रतीक रावण ने राक्षसी प्रवृत्तियों से छोटी बच्चियों को बचाने का संदेश दिया। पेट्रोल-डीजल दरवृद्धि और कश्मीर में पत्थरबाजी का मुद्दा भी उठा। कुंभकर्ण के पुतले ने पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर कहा कि इसने पूरे भारत में आग लगा रखी है। मेघनाद का कहना था कि कश्मीर अब स्वर्ग नहीं रहा, पत्थरबाजों का अड्‌डा बनकर रह गया है।

रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम
रावण, कुंभकर्ण व मेघनाद के विशालकाय पुतलों की पूजा के साथ रंगारग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरुआत हुई। डांस इंडिया डांस में धूम मचा चुके रामटेक के एपी रॉकर्स ग्रुप के कलाकारों ने गणेश वंदना और छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन पर नाटिका प्रस्तुत कर मन मोह लिया। निर्देशक पंकज डोंगरे और आबिद सैयद थे। कांद्री माइंस के देशभक्ति गीत प्रस्तुत किया। ओमप्रकाश सोनी ने रोचक अंदाज में आंखों देखा हाल सुनाया। संचालन नरेंद सतीजा ने किया। 

 

खबरें और भी हैं...