दैनिक भास्कर हिंदी: विजय दशमी : गड़चिरोली में कहीं रावण दहन, तो कहीं हुई पूजा

October 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, गड़चिरोली। दशहरे का त्यौहार उत्साहपूर्वक मनाया गया। गड़चिरोली समेत सभी तहसील और ग्रामीण अंचलों में भी दशानन रावण का दहन कर जय श्रीराम के नारों की गूंज उठी।  इसके बाद लोगों ने सोना बांटकर एक-दुसरे को दशहरे की शुभकामनाएं दी। वहीं दूसरी ओर धानोरा, कोरची, कुरखेड़ा आदि तहसीलों में आदिवासियों ने रावण की पुजा की। दशहरे के उपलक्ष्य में गांव से रैली निकालकर लंकापति रावण का पूजन किया। धानोरा तहसील के परसवाड़ी गांव में रावन की पुजा की गई।

राम मंदिर देवस्थान की ओर से हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी विजया दशमी के अवसर पर गुरूवार को शोभायात्रा का आयोजन किया गया था। शहर के साप्ताहिक बाजार परिसर में भी रावण का दहन किया गया। रावणदहन का नजारा देखने के लिए लोगों की भीड़ जुटी। साथ ही अहेरी राज नगरी में भी बड़ी धूमधाम से दशहरा मनाया गया। 

परसवाड़ी में रावनपूजा की परंपरा
आदिवासी जनसमुदाय लंकापति रावण को भगवान की तरह पूजता है। उनका मानना है कि, आदिवासी समाज के विकास के लिए दशानन ने कई ठोस कदम उठाए थे। वे एक न्यायप्रिय राजा, महाज्ञानी थे। धानोरा तहसील स्थित आदिवासी गांव में दशहरे के उपलक्ष्य में लंकापति रावण की पुजा की गई है। यहां अनेक वर्षो से महात्मा रावण की पूजा की जा रही है। इस वर्ष भी रावण पुजा महोत्सव का आयोजन किया गया था।

खबरें और भी हैं...