दैनिक भास्कर हिंदी: बारिश रुकने से फिर खुली जंगल सफारी

June 17th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। जून माह के शुरुआत में ही अच्छी बारिश होने से बहुतांश जंगल के रास्ते कीचड़ से भर गए थे, जिससे वन विभाग ने 16 जून से 30 जून तक ऑनलाइन बुकिंग बंद कर दी थी। इधर अचानक बारिश गायब होने से वन विभाग ने पर्यटकों के लिए जंगल सफारी पुन: शुरू करने की घोषणा की है। इसके लिए अब टिकटों की बुकिंग पर्यटन गेट से ही की जाएगी। इससे पर्यटक जून माह में भी जंगल सफारी का आनंद ले सकेंगे।

विदर्भ में कई जंगली क्षेत्र हैं, जिसमें पेंच व्याघ्र प्रकल्प, बोर व्याघ्र प्रकल्प, उमरेड-पवनी करांडला अभयारण्य व टिपेश्वर अभयारण्य आदि का समावेश है। यहां हर वर्ष गर्मी के मौसम में पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। इसके लिए ऑनलाइन टिकट की बुकिंग की जाती है। बारिश के मौसम में   जंगल की सैर करने के लिए बनाई गई सड़कें पूरी तरह कच्ची होती हैं, जिससे कीचड़ हो जाने से वाहनों के आवागमन में दिक्कतें होती हैं। जीप या अन्य वाहन कीचड़ में फंस जाते हैं, जो पर्यटकों के लिए परेशानी के साथ घातक भी साबित हो सकते हैं।

इन बातों का ध्यान रखते हुए मानसून के मौसम में पर्यटकों को जंगल सफारी की अनुमति नहीं दी जाती हैै। हर बार जून माह के बाद यह सैर बंद की जाती है, लेकिन इस बार मानसून का आगमन जल्दी होने से उक्त सड़कें कीचड़ से भर गई थीं। परिणाम स्वरूप तत्काल प्रभाव से टिकट की बुकिंग बंद कर दी गई थी। लेकिन अचानक बारिश बंद होने से पुन: टिकटों की बुकिंग शुरू कर दी गई है।। वन विभाग ने इस माह के आखिर तक सीधे पर्यटक गेट पर आकर बुकिंग कराने की अपील की है।