दैनिक भास्कर हिंदी: लोकार्पण से पहले टूटी नहर , 154 करोड़ की लागत से बनाई जा रही है

September 26th, 2018

डिजिटल डेस्क, बल्देवगढ़। बानसुजारा बांध के लोकार्पण से पहले ही नहर टूटने का मामला सामने आने के बाद जिम्मेदारों ने मरम्मत शुरू करा दी है। जगह-जगह टूटी नहर का सुधार कार्य परियोजना के अधिकारियों ने शुरू करा दिया है। इससे आगामी रबी सीजन में फसलों की सिंचाई के लिए पानी मिलने की उम्मीद बढ़ गई है। बहुप्रतीक्षित बान सुजारा बांध परियोजना में निर्मित नहर का मामला 16 सितम्बर को दैनिक भास्कर ने बांध के लोकार्पण से पहले टूटने लगी नहर, सिंचाई के सपने को लग सकता है ग्रहण शीर्षक के प्रकाशित किया। जिसमें बांध से रमपुरा तक निर्माणाधीन ओपन केनाल के जगह-जगह टूटने की हकीकत उजागर की थी। बान सुजारा बांध से कुड़ीला थाना क्षेत्र अंतर्गत रमपुरा गांव तक ओपन केनाल निर्माणाधीन है। 30.9 किमी लंबाई की इस नहर की अनुमानित लागत करीब 154 करोड़ बताई जाती है। परियोजना में बांध का पानी इसी नहर से छोड़ा जाएगा। नहर से पानी पाइप लाइन के माध्यम से किसानों के खेतों तक पहुंचाने की योजना है।

नहर से सिंचाई की बढ़ी उम्मीद
बल्देवगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम कुडय़ाला सहित कई अन्य जगहों पर निर्माण के दौरान ही नहर टूट गई है। मामला संज्ञान में लाए जाने पर अधिकारियों का कहना था कि बारिश के पानी के भराव के कारण कुछ जगह नहर टूट गई है। कुछ स्थानों पर पानी निकालने के लिए नहर तोड़े जाने की सफाई दी जा रही थी। बान सुजारा बांध के सीएम द्वारा लोकार्पण की चर्चाओं के बीच टूटी नहरों की सच्चाई सामने आने के बाद जिम्मेदार हरकत में आ गए हैं। आनन-फानन में नहर की मरम्मत का काम शुरू कराया गया है। नहर दुरुस्त होने से आगामी रबी सीजन में किसानों से सिंचाई के लिए पानी मिलने की उम्मीद है।

पिकअप में लादकर ले जा रहे थे भैंसों को ग्रामीणों ने पकड़ा
कोतवाली थाना अंतर्गत रमन्ना के जंगल से भैंसें ले जाने वाले एक युवक को ग्रामीणों ने मय पिकअप वाहन के साथ पपौरा कालोनी के पास से दरमियानी रात दबोचा है। इस दौरान पकड़ में आए युवक को लोगों ने जमकर सबक सिखाया, वहीं अन्य तीन व्यक्ति भनक लगते ही मौके से भाग निकले। ग्रामीणों ने आरोपी को जहां पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। वहीं पिकअप वाहन को भी जब्त कर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...