comScore

RTEएडमिशन:  अभिभावकों के मोबाइल पर मिलेंगे SMS

RTEएडमिशन:  अभिभावकों के मोबाइल पर मिलेंगे SMS

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  मनपा से अनुमति मिलने के बाद आरटीई (राइट टू एजुकेशन) प्रवेश प्रक्रिया आरंभ होने जा रही है। कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष स्कूलों में दस्तावेज जमा करने होंगे। स्कूल में अस्थायी प्रवेश देकर दस्तावेज मुख्य पड़ताल समिति के पास भेजे जाएंगे। समिति के स्तर से दस्तावेजों की पड़ताल के बाद अलॉटमेंट लेटर मिलने पर प्रवेश निश्चित किया जाएगा।

लॉकडाउन के चलते लटकी रही प्रक्रिया
17 मार्च को ड्रॉ निकालने के बाद लॉकडाउन के चलते अारटीई प्रवेश प्रक्रिया ठंडे बस्ते में चली गई थी। स्कूल खोलने पर कोई ठोस निर्णय नहीं होने से आरटीई प्रवेश प्रक्रिया को लेकर अनिश्चितता बनी हुई थी। पिछले सप्ताह शिक्षा विभाग ने आरटीई प्रवेश प्रक्रिया आरंभ करने के निर्देश दिए। अन्य जिलाें में प्रक्रिया आरंभ की गई, लेकिन रेड जोन में रहने से नागपुर में कोई गतिविधि शुरू नहीं हुई थी। इस वजह से प्रवेश प्रक्रिया लटक गई। मनपा प्रशासन से अनुमति मिलने पर 29 जून से यह प्रक्रिया आरंभ की जा रही है।

एसएमएस के माध्यम से पालकों को दी जाएगी तारीख और समय की जानकारी
भीड़ कम करने के लिए प्रशासनिक स्तर पर पहल की गई है। पहले दस्तावेज स्कूल में जमा कराए जाएंगे। इसके लिए तारीख और समय तय किया जाएगा।  इसकी जानकारी अभिभावकों को एसएमएस के माध्यम से दी जाएगी। एसएमएस में स्कूल का नाम और पता, दस्तावेज जमा करने की तारीख, समय दिया जाएगा। एसएमएस स्कूल और अभिभावक दोनों को भेजा जाएगा। जिस तारीख और समय पर बुलाया गया है, उसी समय पर अभिभावकों को संबंधित स्कूल में मूल दस्तावेज की फोटो कॉपी देनी होगी।

6784 सीटें हैं आरक्षित
आरटीई प्रवेश के लिए जिले में 31 हजार 44 आवेदन प्राप्त हुए थे। 6784 सीटें आरक्षित हैं। ड्रॉ निकालकर 6685 विद्यार्थियों का चयन किया गया है। आवेदन में स्कूल का विकल्प नहीं भरने से 99 सीटों पर प्रवेश प्रक्रिया नहीं होगी।

कमेंट करें
PX3Ox